चुनाव के दौरान सामूहिक भोज करवाना पड़ा महंगा, आयोग से शिकायत, पुलिस भी पहुंची

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 27 Nov 2018 01:33 PM, Updated On 27 Nov 2018 02:01 PM

ग्वालियर। चुनाव के दौरान अक्सर मतदाताओं को लोक लुभावन वादे और प्रलोभन देने के मामले सामने आते हैं।  ग्वालियर में कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा लोगों को खाना खिलाने की सूचना पर पुलिस प्रशासन ने शिव गार्डन में देर रात छापेमार कार्रवाई की है, जहां सैकड़ों लोगों को खाना खिलाया जा रहा था।

पढ़ें-पैसे बांट रहे नेताजी को ग्रामीणों ने पकड़ा, कार सहित लाखों रूपए जब्त

दरअसल निर्वाचन आयोग के ऑब्जर्वर को देर रात सूचना मिली थी कि गार्डन में दक्षिण विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक का लोगों को खाना खिलाने का कार्यक्रम चल रहा है, जिसके बाद देर रात पुलिस प्रशासन और आयोग की टीम ने छापेमार कार्रवाई की तभी वहां मौजूद लोग एक छोटा बच्चा ले आए और साथ ही एक केक मंगाकर पुलिस प्रशासन और आयोग के सामने काटने लगे और बताया कि इस बच्चे का बर्थडे है और उसी को लेकर कार्यक्रम चल रहा है। पुलिस को ये बात हजम नहीं हुई वहां मौजूद लोगों से पूछताछ की गई लेकिन वहां मौजूद कोई भी शख्स बच्चे का नाम नहीं बता सका।पुलिस ने केस दर्ज कर जांच में जुट गई है। 

पढ़ें-रमन ने मंडला में किया प्रचार, कहा- छत्तीसगढ़ और मप्र में बनेगी बीजेपी

वहीं पन्ना में प्रत्याशियों पर अवैध रुप से शराब बांटकर मतदाताओं को लुभाने का आरोप लग रहा है। रात के वक्त मतदाताओं को अवैध रूप से शराब बांट रहा एक वाहन धर्मपुर क्षेत्र के एक घर में जा घुसा। जिसकी चपेट में आने से एक 11 साल के बच्चे की मौके पर मौत हो गई और उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गई। महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनका इलाज चल रहा है। इधर मृतक के भाई ने बताया कि प्रचार खत्म होने के बाद भी प्रचार किया जा रहा था। इसके साथ ही उसने जिस वाहन से उसके भाई की मौत हुई है। उसे बसपा प्रत्याशी का बताया। उसने बताया कि वाहन हाथी का प्रचार कर रही थी। इस घटना से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Assembly Election:

जरूर देखिये