देर रात सुनवाई कर हाईकोर्ट ने रोकी निगम की कार्रवाई, जानिए क्या है मामला

Reported By: Ravihemraj Sisodiya, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 12 Mar 2019 10:32 PM, Updated On 12 Mar 2019 10:28 PM

इंदौर: बिल्डर संदीप अग्रवाल हत्याकांड के साजिशकर्ता रोहित सेठी के अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए इंदौर हाईकोर्ट में देर रात सुनवाई हुई। इस हाई प्रोफाइल मामले में स्पेशल बेंच के 2 जजों ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए रोहित सेठी के वकील को 2 दिन का समय दिया है। कोर्ट ने आदेश जारी करते हुए कहा कि दो दिन के भीतर आगे हुए अवैण निर्माण को खुद हटाएं नहीं तो निगम अमला कार्रवाई के स्वतंत्र है।

Read More: डीकेएस अस्पताल में हो सकती है ठेका कर्मियों की छंटनी, बढ़ रहे खर्च पर अंकुश लगाने की कवायद

मिली जानकारी के अनुसा नगर निगम की ओर से अपील दायर की गई थी कि रोहित सेठी ने अपने बंगले के आगे की और अवैध निर्माण किया है। नगर निगम की ओर से दायर याचिका को रुकवाने के लिए रोहित सेठी के वकील ने जो याचिका दायर की थी । उसे हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया।

Read More: वाहन चेकिंग के दौरान 5 लाख रुपए जब्त, आचार संहिता लगते ही पुलिस ने बनाए सर्चिंग पाइंट

गौरतलब है कि इंदौर के विजय नगर क्षेत्र में केबल कारोबारी संदीप अग्रवाल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड के बाद से रोहित फरार था। लंबे समय से कानून के हाथ से दूर रहने पर पुलिस ने उस पर इनाम घोषित किया था। बताया जाता है कि रोहित सेठी ने इस हत्याकांड को अंजाम देने के बाद सबूत मिटाने का भी प्रयास किया था। सेठी को देहरादून में मादक पदार्थ के साथ गिरफ्तार किया गया था।

Read More: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा- 'अपने देश के लिए सर्वश्रेष्ठ काम करने पर भरोसा रखता हूं'

ज्ञात हो कि यह पहला ऐसा मामला नहीं है जिसमें हाईकोर्ट ने रात में सुनवाई की है। इससे पहले मद्रास हाईकोर्ट ने 10 जून 2018 को पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम द्वारा विदेशी संपत्तियों का खुलासा नहीं करने के मामले में सुनवाई करते हुए जमानत दिया था।

Web Title : at night Indore high court issue order to nagar nigam on sandeep agarwal case

जरूर देखिये