छत्तीसगढ़ से कश्मीर के आतंकियों को आर्थिक मदद पहुंचाने वाले 4 आरोपियों की जमानत याचिका खारिज

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 13 Jul 2019 10:29 AM, Updated On 13 Jul 2019 10:29 AM

बिलासपुर। हाईकोर्ट ने छत्तीसगढ़ से कश्मीर के आतंकियों को आर्थिक मदद पहुंचाने वाले चार आरोपियों की जमानत याचिका खारिज कर दी है। आरोपियों के संबंध पाकिस्तान को भारतीय सेना की गोपनीय जानकारी देने वालों से हैं।

पढ़ें- वित्त आयोग के सदस्य 23 जुलाई से तीन दिवसीय दौरे पर आएंगे छत्तीसगढ़,..

बिलासपुर की सिविल लाइन पुलिस ने अप्रैल 2017 में गोपनीय सूचना के आधार पर शहर के एक निजी अस्पताल में काम करने वाले धर्मेन्द्र यादव को हिरासत में लिया था। इसके बाद अवधेश दूबे, मनिन्द्र यादव और संजय देवांगन को गिरफ्तार किया गया था।

पढ़ें- टीआरएस नेता श्रीनिवास राव की नक्सलियों ने की हत्या, सड़क किनारे मिल...

पूछताछ में पुलिस को ये जानकारी मिली कि संजय देवांगन का कश्मीर में रहने वाले सतविंदर सिंह से सीधा संपर्क था और सतविंदर सिंह आतंकियों की मदद करता था जिसे जम्मू कश्मीर पुलिस ने गिरफ्तार किया।

पढ़ें- म​कान ​विवाद में चचेरे भाई की हत्या, सीने में घुसा दिया भाला, मौके पर मौत

छत्तीसगढ़ के आरोपियों के खाते में आतंकियों की मदद के लिए आनलाइन पैसे भेजे जाते थे जिसे आरोपी अपना कमीशन काट कर अन्य माध्यमों से कश्मीर भेज दिया करते थे। जेल में बंद मनिन्द्र यादव, संजय देवांगन, अवधेश दूबे और सतविंदर सिंह ने हाईकोर्ट में जमानत याचिका पेश की थी। जस्टिस प्रशांत मिश्रा की डिविजन बेंच ने आरोपियों के खिलाफ टेरर फंडिंग का सबूत पुख्ता पाए जाने पर जमानत आवेदन खारिज कर दिया है।

 

Web Title : Bail plea reject of ​​four accused in Terror funding case of chhattisgarh

जरूर देखिये