'भारत रत्न' सम्मान समारोह : पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, भूपेन हजारिका और नानाजी देशमुख को भारत रत्न सम्मान

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 08 Aug 2019 07:00 PM, Updated On 08 Aug 2019 07:00 PM

नईदिल्ली। आज शाम राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सम्मानित किया गया। उनके अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता और जाने-माने समाजसेवी रहे नानाजी देशमुख और असम के महान गायक भूपेन हजारिका को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

read more : राखी त्यौहार के लिए उमड़ी बहनों की भीड़, पोस्ट ऑफिस में किए गए विशेष इंतजाम

नानाजी देशमुख की तरफ से दीनदयाल उपाध्याय रिसर्च इंस्टिट्यूट के चेयरमैन वीरेंद्रजीत सिंह और भूपेन हजारिका की तरफ से उनके बेटे तेज हजारिका ने भारत रत्न लिया। इसी साल जनवरी में इन तीनों हस्तियों को भारत रत्न देने का ऐलान हुआ था। समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और मोदी सरकार के तमाम बड़े मंत्री शामिल हुए।

read more : हेड मास्टर ने की आत्महत्या, स्कूल में आकर दारू के नशे में गाली-गलौच करने से परेशान था शिक्षक

बता दें कि भारत रत्न के तौर पर उससे सम्मानित होने वाली हस्ती को एक ताम्र पदक दिया जाता है। पीपल के पत्ते के आकार के ताम्र पदक पर प्लेटिनम का चमकता सूर्य बना होता है जिसके नीचे चांदी से 'भारत रत्न' लिखा रहता है।

read more : हंगामा खत्म करो नहीं तो बर्बाद कर देंगे, हॉस्टल की छात्राओं को पुलिस ने दी धमकी

83 साल के प्रणब मुखर्जी यह सम्मान पाने वाले पांचवें ऐसे शख्स हैं, जो देश के राष्ट्रपति भी रह चुके हैं। उनसे पहले डॉ. एस. राधाकृष्णन, राजेंद्र प्रसाद, जाकिर हुसैन और वीवी गिरी भी भारत रत्न से सम्मानित हो चुके हैं।

Web Title : Bharat Ratna Award ceremony: Bharat Ratna award to former President Pranab Mukherjee, Bhupen Hazarika and Nanaji Deshmukh

जरूर देखिये