डीजीपी नियुक्ति पर बघेल का पलटवार,कहा-वे कानून की बात कर रहे हैं, जो कोई नियम नहीं मानते थे

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 10 Jan 2019 09:54 AM, Updated On 10 Jan 2019 10:17 AM

रायपुर। पूर्व सीएम रमन सिंह की ओर से DGP को चलाऊ कहे जाने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पलटवार करते हुए बीजेपी और रमन सिंह को जमकर कोसा। एक सम्मान समारोह के दौरान उन्होंने पत्रकारों के एक के बाद एक तीन सवालों के जवाब दिए। जिसमें मुख्यमंत्री की ओर से DGP की नियुक्ति पर उठाए गए सवाल पर कहा कि नियम कानून की बात अब वो करेंगे, जो न नियम को मानते थे न संविधान को।

पढ़ें-टाटा स्टील के लिए अधिग्रहित जमीन लौटाने का आदेश, किसानों को 44 सौ एकड़ भूमि मिलेगी वापस

उन्होंने कहा कि वे न्यायालय की बात को भी नहीं मानते थे, वो अब कानून की बात करने लगे हैं। बीजेपी विधायक ननकीराम कंवर से मुलाकात को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि विधायक हैं तो मिलेंगे ही। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि उन्होंने जो पत्र दिया है, उसका परीक्षण किया जाएगा। IAS अधिकारियों की ओर से निर्देश जारी होने के बाद भी संपत्ति का डिटेल नहीं दिए जाने को लेकर उन्होंने कहा कि विधानसभा सत्र खत्म होने दीजिए उसके बाद मंत्रालय में बैठूंगा, तो इसे देखूंगा।

पढ़ें- रमन ने दी सत्ता पक्ष को नसीहत-नक्सल नीति में परिवर्तन हुआ तो समस्या...

गौरतलब है नक्सल ऑपरेशन स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी को प्रभारी डीजीपी बनाए जाने पर सदन में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह से सरकार को जमकर घेरा था। सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि डीजीपी को चालू प्रभार देकर सरकार अधिकारियों को बेइज्ज्त कर रही है। रमन सिंह ने सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का हवाला देते हुए कहा कि किसी अधिकारी को ऐसे नहीं हटाया जा सकता।

Web Title : bhupesh baghel reaction on matter of appointment of DGP

जरूर देखिये