कोयला की हेराफेरी का बड़ा खुलासा, कोल वाशरी में क्षमता से लाखों टन अधिक मिला भंडारण

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 16 Jun 2019 01:47 PM, Updated On 16 Jun 2019 01:47 PM

कोरबा । छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित कोल डिपो में होने वाली कोयले की गड़बड़ी का सिलसिला नहीं थम रहा है। कोल वाशरी में कोयला की हेराफेरी का बड़ा खुलासा हुआ है। रायपुर की माइनिंग की टीम ने की बड़ी कार्रवाई करते हुए ये खुलासा किया है। कोरबा के 3 कोल वाशरी में क्षमता से करीब 6.84 लाख टन अधिक कोयला मिला है।

ये भी पढ़ें- भवन स्वामी की मौत के बाद वारिस को किराएदार के खिलाफ सीमित अधिकार, ह...

अनाधिकृत स्टॉक पाए जाने पर माइनिंग टीम ने स्वास्तिक कोल वाशरी कनबेरी को सील कर दिया है। खनिज विभाग के ज्वाइंट डायरेक्टर जी महेश बाबू के नेतृत्व में शनिवार- रविवार की दरम्यानी रात के करीब 3 बजे तक ये कार्रवाई चलती रही। छापे के बाद कोल वाशरी संचालकों को 3 दिन में जवाब देने का नोटिस थमाया गया है। कोल वाशरी को कलेक्टर के समक्ष जवाब देने को कहा गया है।

ये भी पढ़ें- अदालती आदेश के बाद भी आरक्षक भर्ती का रिजल्ट नहीं, आंदोलन की चेतावन...

बता दे कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित कुसमुंडा खदान से निकले ट्रेलर से अच्छा कोयला डिपो में डंप कर उसके स्थान पर चूरा कोयला लोड कर हिंद एनर्जी वाशरी में पहुंचाए जाने का मामला सामने आया था। वाशरी में हुई कोयले की गुणवत्ता जांच के बाद इस हेराफेरी की पोल खुली थी। पुलिस ने 25 टन कोयला, 1 जेसीबी, 1 कार जब्त कर एक ट्रेलर के चालक-परिचालक सहित 6 लोगों को गिरफ्तार भी किया था ।

Web Title : Big disclosures of coal rigging

जरूर देखिये