Watch Live: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले शाह- हम तो देशभर में चुनाव लड़ रहे फिर हिंसा बंगाल में ही क्यों, जीतेंगे 300 से ज्यादा सीटें

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 17 May 2019 04:40 PM, Updated On 17 May 2019 05:13 PM

नई दिल्ली: बीेजेपी अध्यक्ष अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार को मीडिया से रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने 2014 में हुए चुनाव को लेकर मीडिया से चर्चा आरंभी करते हुए कहा कि चुनाव में जनता ने भाजपा को बहुमत दिया था। मोदी ने जनता के एक्सपेरिमेंट का साकार किया है। इस बार भी हमें आशा है जनता का समर्थन मिलेगा। मोदी ने सभी लोगों को ध्यान में रखकर हर 15 दिन में नई योजनाएं लाई। इन 133 योजनाओं ने देश के हर नागरिक को लाभ पहुचाया है। 

विपक्ष के आरोप कि बीजेपी ने इलेक्शन का स्तर गिरा दिया पर शाह ने कहा, बता दूं कि कहीं भी बीजेपी के नेताओं से इस तरह की बात नहीं की गई। लेकिन भष्टाचार की बात करने को स्तर गिराना कहा जाए तो वह ठीक नहीं। एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार बनाने के लिए बीजेपी 300 से ज्यादा सीट लाएगी पूर्ण विश्वास है। सरकार एनडीए की ही बनेगी। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी अपने बूते बहुमत लाएगी लेकिन चुनाव पूर्व का गठबंधन है इसलिए सरकार एनडीए की होगी और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री होंगे। इसके बाद भी कोई हमसे जुड़ना चाहे तो स्वागत है। हमें पूरा भरोसा है कि हम चुनाव जीतने जा रहे हैं। हम जनता के सामने हैं। विपक्ष को भरोसा नहीं इसलिए वह ड्राइंग रुम की खिचड़ी पका रहा।

शाह ने कहा हमने 2014 से ही 50% की लड़ाई की तैयारी की  थी और जिस प्रकार से मोदी सरकार का परफार्मेंस रहा, उसे देखते हुए हम जीत रहे हैं। हम शुरु से ही 50 प्रतिशत ही मान कर चले हैं और इसी थ्योरी के आधार पर हिमाचल, गुजरात पर काम किया है। वो जमाना गया कि दिल्ली में दो नेता एसी में बैठे तय करते हैं, अब मतदाता खुद अपना मत तय करता है।

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि तल्ख टिप्पणियों से बैकफुट पर आने के जवाब में कहा कि किसी गलत प्रचार का जनमानस पर कोई असर नहीं हुआ है। उलटा सिंपैथी हमें ही मिलेगी। बंगाल में बीजेपी के 80 कार्यकर्ता डेढ़ साल में मारे गए हैं, क्या जवाब है ममताजी के पास, कौन हिंसा फैला रहा। हम तो अन्य राज्यों में चुनाव लड़ रहे हैं, क्यों और कहीं हिंसा नहीं हुई। हम हिंसा करते तो अन्य जगहों पर भी हिंसा हुई होती।

पीएम से सवाल पूछने पर मोदी ने अपने आपको डिसिप्लिन सोल्जर बताते हुए अमित शाह की ओर इशारा कर दिया। अमित शाह ने जवाब देते हुए कहा कि विवादस्पद बयान देने वालों को अनुशासन कमेटी ने नोटिस जारी कर दिया है। एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए शाह ने कहा कि जवाब मैंने दे दिया है, हर बात का जवाब प्रधानमंत्री ही दें ये जरुरी नहीं। आरोप-प्रतिआरोप हर चुनाव में होते हैं। हमारा मन इतना संकुचित नहीं है। उन्होंने कहा कि हम मीडिया को साथ नहीं ले पाए।

शाह ने कहा कि मोदी सरकार का काम और जो रिस्पॉन्स मिला है उसके आधार पर कह सकता हूं कि हम 300 से ज्यादा सीटें लाएंगे। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पूरी भारतीय जनता पार्टी को खेद है, अनुशासन समिति ने दस दिन का समय देते हुए तीनों नोटिस जारी कर दिया है। इन तीनों नेताओ की बात से बीजेपी का लेनादेना नहीं है, वे उनकी निजी बातें हैं।

उन्होंने प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी पर कहा कि यह फर्जी भगवा टेरर के सामने हमारा सत्याग्रह है। कांग्रेस से सवाल किया कि समझौता एक्स्प्रेस में कुछ लोग पकड़े गए, सीबीआई ने कहा कि लिट्टे से संपर्क है, विदेशी एजेंसी ने भी यही कहा, लेकिन आरोपियों को छोड़ दिया गया और भगवा पर इल्जाम लगा दिया है। कांग्रेस ने देश से धोखा किया, इसलिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि किसी भी बीजेपी के नेता का भाषण सुन लीजिए, 40 में से 35-36 मिनट तक विकास पर ही बात हुई बाकी राजनीतिक जवाब लेकिन टीआरपी और फ्रंट पेज के विज्ञापन के कारण वही 3 मिनट की बातें ही खबर बनती हैं।

 

 

Web Title : BJP press conference

जरूर देखिये