BJP ने कांग्रेस विधायक प्रकाश नायक पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- शपथ पत्र में निर्वाचन आयोग से छिपाई जानकारी

Reported By: Avinash Pathak, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 02 Apr 2019 05:09 PM, Updated On 02 Apr 2019 05:09 PM

रायगढ़: लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर सियासी गलियारों में सरगर्मी चरम पर है। छत्तीसगढ़ में भी हालात कोई अलग नहीं हैं, यहां भी राजनीतिक बयानबाजी का दौर भी जोरों पर है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि भाजपा ने रायगढ़ विधायक पर निर्वाचन आयोग को गुमराह करने का आरोप लगाया है। भाजपा का कहना है कि विधायक प्रकाश नायक ने अपने विधानसभा चुनाव के शपथ पत्र में निर्वाचन आयोग को गलत जानकारी दी है।

Read More: भूपेश का रमन पर पलटवार, कहा- मैं सवाल से नहीं भागता, फेसबुक और ट्विटर पर दूंगा जवाब

भाजपा का कहना है कि विधानसभा चुनाव 2018 के शपथ पत्र में विधायक प्रकाश नायक ने खुद को किसान बताया है जबकि उनके नाम पर सरिया इलाके में पत्थऱ की खदान है। इतना ही नहीं उन्होने खुद को जीएसटी के दायरे से भी बाहर बताया है। ऐसे में कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर हुआ है, लोगों की सहानुभूति हासिल करने के लिए इस तरह की गलत जानकारी देना कांग्रेस विधायक को शोभा नहीं देता।

Read More: जेब में न तो पैसा, न नल में पानी, नारे के साथ मटकी में चिल्हर लेकर नामांकन के लिए पहुंचे उम्मीदवार

मामले में कांग्रेस ने विधायक प्रकाश नायक का बचाव किया है। कांग्रेस का कहना है कि प्रकाश नायक ने पत्थर खदान के पास लीज जरूर है लेकिन इसका व्यवसायिक उपयोग नहीं किया गया है। खदान बंद पड़ी है। कुछ दिन पहले खदान से उत्खऩन कर कुछ पत्थऱ निकाले गए थे, जिससे घर की बाउंड्रीवाल बनाई गई है। न कि इसका विक्रय किया जा रहा है। कांग्रेस का कहना है कि विधायक का उत्खनन का कोई कारोबार ही नहीं है, ऐसे में जानकारी छिपाने जैसी कोई बात नहीं है। इसे बेवजह मुद्दा बनाया जा रहा है।

Read More: राष्ट्रपति से ​राज्यपाल की शिकायत, निर्वाचन आयोग ने कहा- संवैधानिक पद पर रहते हुए कर रहे मोदी का प्रचार

जिला भाजपा अध्यक्ष जवाहर नायक का कहना है कि प्रकाश नायक के नाम से खदान संचालित है लेकिन उन्होने जानकारी छिपाई है लोगों की संवेदना हासिल करने के लिए खुद को किसान बताना अनुचित है।

Read More: आमिर खान को असहिष्णुता वाले बयान पर नोटिस, 19 जून को रायपुर कोर्ट में उपस्थित होने के निर्देश

मामले का लेकर जिला कांग्रेस प्रवक्ता अनिल शुक्ला ने कहा कि भाजपा का ये आरोप सरासर गलत है, मूल रूप से विधायक प्रकाश नायक किसान हैं। किसानी कर परिवार का पालन करते हैं, कोई व्यापार नही करते। सहसपाली मे घरेलू उपयोग के लिए साधारण पत्थऱ की एक लीज ली गई थी। केवल छह ट्राली पत्थर निकालकर घर की बाउंड्रीवाल बनाई है। निर्वाचन फार्म में कहीं कोई कालम नहीं है, जिसमें व्यवसाय का उल्लेख हो। आज भी जाकर देख लें कहीं कोई उत्खनन नहीं हुआ है।

Web Title : BJP says- Raigarh MLA Prakash Nayak hide detail on Affidavit of CG Assembly Election 2018

जरूर देखिये