ब्लू व्हेल गेम राष्ट्रीय समस्या, जागरुकता फैलाएं न्यूज़ चैनल-सुप्रीम कोर्ट

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 27 Oct 2017 01:05 PM, Updated On 27 Oct 2017 01:05 PM

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम टिप्पणी में कहा है कि ब्लू व्हेल एक राष्ट्रीय समस्या है। सुप्रीम कोर्ट ने ये टिप्पणी ब्लू व्हेल गेम बैन करने को लेकर दाखिल की गई एक याचिका पर सुनवाई के दौरान दी है। सर्वोच्च न्यायालय ने ब्लू व्हेल गेम के कारण देश के अलग-अलग हिस्सों से सामने आ रही घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए कहा कि दूरदर्शन और निजी चैनलों को इस मामले पर जागरुकता का प्रचार-प्रसार करें। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि न्यूज़ चैनल्स अपने प्राइम टाइम कार्यक्रमों के दौरान ब्लू व्हेल गेम के ख़तरों, इसके नुकसान को लेकर शो टेलीकास्ट करें।

मैं ब्लू व्हेल गेम की आखरी स्टेज पर हूं....

आपको बता दें कि मौत के खेल, चैलेंज ऑफ डेथ के नाम से कुख्यात ब्लू व्हेल ने देश के कई राज्यों में अपनी पहुंच बना ली है। अभी तीन दिन पहले मध्य प्रदेश के दाहोद में एक लड़की ने ब्लू व्हेल गेम के जाल में फंसकर इस गेम के तहत दिए गए टास्क को पूरा करने के लिए अपने हाथ को कई जगह से काट लिया था, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी।

छग : प्रदेश के 36 बच्चों के हाथ पर कट के निशान, ब्लू व्हेल गेम खलने की आशंका

 इस लड़की ने ये खौफनाक हरकत बाथरूम में छिपकर की थी, जब वो बाथरूम से बाहर निकली तो उसकी बहन ने लहूलुहान हालत में देखा। अस्पताल में पता चला कि उसने दो दर्जन से ज्यादा जगह अपने हाथ काट डाले थे, जिसपर करीब सौ टांके लगाने पड़े। छत्तीसगढ़ में भी ब्लू व्हेल के जाल में फंसे युवाओं के मामले सामने आ चुके हैं।

ब्लू व्हेल के ख़तरनाक जाल ने छत्तीसगढ़ तक बना ली पैठ !

Web Title : Blue Whale game is a national problem-Supreme Court

जरूर देखिये