इस सरकारी स्कूल में संदिग्ध परिस्थितियों में जलाए गए दस्तावेज, गणवेश और किताब, बेखबर हैं अधिकारी

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 21 Jul 2019 09:31 PM, Updated On 21 Jul 2019 09:31 PM

बलौदाबाजार: बिलाईगढ़ के शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला टिकरीपारा में बड़ी लापरवाही सामने आई है। खबर है कि स्कूल के कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में कई पुराने और महत्वपूर्ण रिकॉर्ड, किताब और बच्चों को वितरण किए जाने वाले गणवेश को आग के हवाले कर दिया। स्कूल स्टाफ ने छुट्टी के दिन संदिग्ध परिस्तिथियों में इस कारनामे को अंजाम दिया है। वहीं, शिक्षा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को इस बात की खबर ही नही है।

Read More: RTI संशोधन कानून को लेकर सीएम भूपेश बघेल का बड़ा बयान, भाजपा पर निशाना साधते हुए कही ये बात

मिली जानकारी के अनुसार बिलाईगढ़ के शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला टिकरीपारा के स्कूल स्टाफ ने रविवार को भारी मात्रा में पुस्तक, गणवेश और महत्वपूर्ण दस्तावेजों को जला दिया है। सवाल यह है कि कागजात और गणवेश को रविवार को ही क्यों जलाया गया। इस मामले को लेकर स्कूल प्रबंधन पर सवालिया निशान लगना लाजमी है।

Read More: ABVP के प्रखर मिश्रा ने NSUI कार्यकर्ता हिमांशु शर्मा से की मारपीट, घर में घुसकर मां और भाई पर भी किया हमला

बेखबर हैं शिक्षा विभाग के अधिकारी
गौर करने वाली बात यह है कि बिलाईगढ़ स्कूल के कर्मचारियों ने दस्तावेज, गणवेश और किताब नष्ट किए जाने के संबंध में शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कोई सूचना नहीं दी है। इस संबंध में अधिकारी बेखबर है।

Read More: देश का पहला ऐसा रेस्टोरेंट जहां 1 किलो कचरा लाने पर मिलेगा भरपेट भोजन, आधा किलो में मिलेगा नास्ता

आखिर क्यों जलाए गए दस्तावेज और किताब
संदिग्ध परिस्थितियों में महत्वपूर्ण रिकॉर्ड, किताब और बच्चों को वितरण किए जाने वाले गणवेश को नष्ट किया गया है, लेकिन रविवार को नष्ट किया जाना स्कूल प्रबंधन को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है। सबके मन में यह प्रश्न उठने लगा है कि रविवार को ही क्यों इन सामानों को आग के हवाले किया गया।

Read More: पुलिस की लापरवाही: क्या ऐसे नाबालिगों को मिलेगा न्याय, रेप के 11 मामलों में संदेहियों का नहीं कराया DNA टेस्ट

Web Title : burnt school dress, books and impotent document in bilaigarh school

जरूर देखिये