भाजपा के 'गालीबाज विधायक' के खिलाफ मामला दर्ज, केंद्रीय नेतृत्व नाराज पार्टी से निलंबित

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 12 Jul 2019 07:56 AM, Updated On 12 Jul 2019 07:56 AM

देहरादून। बीजेपी विधायक प्रणव सिंह चैंपियन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज हो गया है। वहीं केंद्रीय नेतृत्व भी विधायक की करतूत से नाराज को सख्त कार्रवाई के निर्देश ​दिए हैं। फिलहाल उन्हे पार्टी से निलंबित कर दिया गया है।

read more : राष्ट्रीय उद्यान में फिर से तेंदुए की जहरखुरानी से मौत, वन्यजीवों के शिकार में स​क्रिय हैं शिकारी

बता दें कि भाजपा का यह चैंपियन विधायक एक वीडियो में बंदूक घुमाकर उत्तराखंड के लोगों को गाली देते हुए दिख रहे हैं। मुकदमा दर्ज कराने वाले शिकायतकर्ता ने कहा कि चैंपियन ने लोगों की भावनाओं को आहत किया है। उन्होंने कहा,‘उत्तराखंड के लोगों के खिलाफ घिनौने तरीके से दी गई गालियों ने हमें झकझोर दिया है। एक विधायक होने के नाते, चैंपियन को अपनी जुबान पर नियंत्रण रखना चाहिए। उन्होंने उस समय शालीनता की सभी हदें पार कर दीं, जब उन्होंने अपनी इन हरकतों का वीडियो भी बनाया, जो कि बाद में वायरल हो गया।’ बीजेपी विधायक के खिलाफ देहरादून के नेहरू पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

read more : छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र आज से, इन दिवंगत नेताओं को दी जाएगी श्रद्धांजलि

चैंपियन इससे पहले भी अपनी गलत हरकतों के कारण सुर्खियों में रहे हैं। उन्हें अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने और लोगों के साथ दुर्व्यवहार करने के लिए जाना जाता है। यहां तक कि विधानसभा और सचिवालय में भी कर्मचारी उनसे डरते हैं, क्योंकि उन्होंने कई मौकों पर अधीनस्थों को डराया है। पूर्व कैबिनेट मंत्री और उत्तराखंड में चौथी बार विधायक चुने गए चैंपियन उत्तराखंड में गुर्जर राजाओं के एक शाही परिवार से आते हैं।

read more : छत्तीसगढ़ के स्कूलों में उड़िया पाठ्यक्रम शामिल करने खटखटाया हाईकोर्ट का दरवाजा, शासन ने दिया ये जवाब


हालांकि बाद में उन्होंने अभद्र भाषा का उपयोग करने के लिए माफी मांगी। चैंपियन ने कहा, ‘मुझे गलत भाषा का उपयोग करने के लिए खेद है, लेकिन आपको समझना चाहिए कि जब व्यक्ति नशे में होता है तो ऐसी चीजें होती हैं।’ एक ट्वीट में चैंपियन ने कहा कि ‘पार्टी मां की तरह है, और मां मुझे माफ कर देगी।’

 

Web Title : Case against BJP's 'traitor MLA', suspended from central party's angry party

जरूर देखिये