यहां छात्रों को स्कॉलरशिप पर भुगतान करना पड़ रहा है GST!, बैंक ने खाते से काट लिए पैसे

Reported By: Abhishek Soni, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 12 Jul 2019 09:37 PM, Updated On 12 Jul 2019 09:37 PM

सरगुजा: अब तक आपने महंगे सामानों और उपकरणों पर जीएसटी लगने के बारे में देखा और सुना होगा, लेकिन सरगुजा में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां छात्रवृत्ति पर भी जीएसटी लगाई जा रही है। जी हां सरगुजा के सेंट्रल बैंक प्रबंधन ने मैनपाट ब्लॉक में छात्रवृत्ति के लिए छात्रों के खाते सेंट्रल बैंक में खुलवाए गए थे। छात्रों के खाते से पहले तो मिनिमम बैलेंस के नाम पर पैसे काट लिए गए। वहीं, जीएसटी के नाम पर भी कटौती की गई है।

Read More: बाथ टब में डूबने से नहीं हुई थी श्रीदेवी की मौत, हुई थी हत्या, इस पुलिस अधिकारी ने किया दावा

ये मामला किसी एक स्कूल का नहीं बल्कि मैनपाट ब्लॉक के ज्यादातर उन छात्र-छात्राओं का है। जिनके खाते सेंट्रल बैंक में है। ऐसे में कटौती को लेकर छात्र और छात्र नेता बेहद नाराज है। साथ ही उन्होंने इसे गंभीर मामला बताते हुए छात्रों के पैसे वापस दिलाने की मांग की है। इधर जिला शिक्षा अधिकारी का कहना है कि उन्होंने बैंक प्रबंधन से बात की है और जल्द ही कटौती की गई राशि को छात्रों के खाते में जमा करा दिया जाएगा।

Read More: Super 30 Movie Review : 'सुपर' से ऊपर नहीं है 'सुपर 30' , जानिए कहां चुक गए ऋतिक

डीईओ संजय गुप्ता ने कहा है कि छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति उनके पढ़ाई में सहयोग हो सके इसलिए प्रदान की जाती है, लेकिन जिस तरह से सेंट्रल बैंक प्रबंधन ने मनमानी की तरीके से सैकड़ों छात्रों के अकाउंट से जीएसटी के नाम पर पैसों की कटौती की है। यह बेहद ही गलत है। गंभीर बात यह कि सेंट्रल बैंक प्रबंधन इस मामले में कुछ भी कहने को तैयार नहीं ऐसे में समझा जा सकता है। सेंट्रल बैंक प्रबंधन मनमानी कर छात्रों के हितों से खिलवाड़ कर रहा है। ऐसे में देखना होगा कि आखिरकार शिक्षा विभाग कब तक छात्रों को उनके पैसे वापस दिला पाता है और दोषियों पर किस तरह की कार्रवाई की जाती है।

Read More: तीन IAS अफसरों का तबादला, फैज अहमद किदवई बनाए गए मुख्यमंत्री के सचिव

Web Title : Charge GST on Scholarship fo Student

जरूर देखिये