छत्तीसगढ़ को प्रयागराज कुंभ के लिए मिली साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन, 12 जनवरी से 3 मार्च तक चलेगी

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 10 Jan 2019 01:48 PM, Updated On 10 Jan 2019 01:48 PM

रायपुर। प्रयागराज में 14 जनवरी मकर संक्राति से शुरू हो रहे अर्धकुंभ में जाने के लिए छत्तीसगढ़ को स्पेशल ट्रेन की सौगात मिली है। ट्रेन नंबर 08791/08792 दुर्ग-इलाहाबाद कुंभ साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 12 जनवरी 2019 से 3 मार्च 2019 तक सात फेरों में चलेगी। प्रयागराज अर्धकुंभ का आगाज 14 जनवरी 2019 से प्रारंभ हो जाएगा और 04 मार्च महा शिवरात्रि तक चलने वाला ये कुंभ मेला पूरे 50 दिनों का होगा।

पढ़ें- विधानसभा में सीएजी की रिपोर्ट पेश, जोगी कांग्रेस के विधायक देवव्रत ने उठाया शराबबंदी का मुद्दा

कुंभ में करीब 12 करोड़ से ज्यादा लोगों के आने की संभावना जताई जा रही है। इन 15 वजहों से यह अर्द्ध कुंभ सबसे अलग और खास होगा। आइए जानें क्या हैं वो खास बातें-

1. अर्द्ध कुंभ मेले की तैयारी में करीब 4200 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं। यूपी सरकार ने इसके लिए केंद्र से एक तिहाई से ज्यादा राशि मांगी है, जो 2013 के कुंभ मेले की राशि से तीन गुना ज्यादा है।
2. इस मेले के लिए रेलवे 800 स्पेशल ट्रेन चलाने जा रही है। प्रवासी भारतीयों के लिए दिल्ली से 5 स्पेशल ट्रेन भी चलाई जाएंगी।
3. ट्रेन टिकट पर लगने वाला मेला सरचार्ज खत्म कर दिया गया है। नया नियम 11 दिसंबर से लागू हो चुका है।
4. रेलवे मेले के लिए 41 प्रोजेक्ट पर करीब 700 कaरोड़ रुपए खर्च कर रही है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस आईबीएम इंटेलिजेंट वीडियो एनालिटिक्स के जरिए स्टेशन और भीड़ वाली जगहों पर नजर रखेगी।
5. बीमारी-प्रदूषण फैलने से रोकने के लिए इंटेलीजेंस के ऑफिसर्स मेडिकल टीम की मदद करेंगे। साथ ही अस्पतालों में भी व्यवस्थाएं की गई हैं।
6. इनलैंड वाटरवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया कुंभ क्षेत्र में नाव-बोट की व्यवस्था कर रही है। किलाघाट, सरस्वती घाट, नैनी ब्रिज, सुजावन घाट पर फ्लोटिंग टर्मिनल बनाए हैं। सुजावन घाट से 20 किलोमीटर दूर किला घाट तक नाव-बोट की सुविधा होगी।
7. वाराणसी से प्रयागराज के लिए एयरबोट चलेगी, जो एक बार में 80 किलोमीटर की रफ्तार से 16 लोगों को ले जा सकेगी।
8. यदि आप या आपकी कोई चीज खो जाती है या पार्किंग भूल जाते हैं तो यूपी पुलिस की बनाई एप्लीकेशन और वेबसाइट आपके काम आएगी। इसमें एफआईआर दर्ज करने से लेकर तमाम सुविधाएं मिलेंगी।
9. दिल्ली की हितकारी प्रोडक्शन एंड क्रिएशन्स कंपनी लग्जरी टेंट सिटी इंद्रप्रस्थम बसा रही है। इसमें सबसे महंगे टेंट का किराया करीब 35 हजार रुपए होगा। कुल 600 टेंट बनेंगे, जिनमें से 200 लग्जरी (किराया 16 हजार रुपए) और 250 डीलक्स (किराया 12 हजार रुपए) टेंट होंगे।
10. इसी तरह लखनऊ की लालूजी एंड संस कंपनी की कुंभ कैनवास टेंट सिटी में 2500 रुपए में एक रात और 1000 रुपए प्रति बेड के हिसाब से भी टेंट की सुविधा दी जाएगी। ऐसी 5 कंपनियां यूपी सरकार के साथ टेंट सिटी बसाने को लेकर काम कर रही हैं। कल्पवृक्ष, वैदिक टेंट सिटी की वेबसाइट्स से भी बुकिंग की जा सकती है।
11. मेले में सरकार की ओर से 1 लाख 22 हजार टॉयलेट बनवाए गए हैं।
12. 1300 हेक्टेयर क्षेत्र में 94 पार्किंग है, जिनमें 5 लाख गाड़ियां पार्क करने की सुविधा होगी। शटल बस और ई-रिक्शा भी चलेंगे।
13. पेंट माय सिटी के तहत पूरे शहर और मेला क्षेत्र में 15 लाख वर्ग फीट क्षेत्र में आकर्षक आर्ट वर्क किया गया है।
14. कुंभ मेले में पांच बड़े सांस्कृतिक पंडाल (गंगा पंडाल, प्रवचन पंडाल, सांस्कृतिक पंडाल) बनाए जाएंगे। इनमें गंगा पंडाल सबसे बड़ा होगा। इसमें सभी लोक नृत्य और बड़े सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

Web Title : Chhattisgarh Weekly Special Train for Prayagraj Kumbha, runs from January 12 to March 3

जरूर देखिये