बच्चों की मौत के मामले में छत्तीसगढ़ का 13 वां स्थान, नीति आयोग ने जारी किए ये ऑकड़े

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 06 Jul 2019 07:39 PM, Updated On 06 Jul 2019 07:39 PM

रायपुर। नीति आयोग द्वारा जारी ऑकड़ों में नवजात शिशुओं की मौत के मामले में प्रदेश को 13 वां स्थान मिला है। प्रदेश में एक हजार में 26 बच्चे एक महीने तक भी नहीं जीवित रह पाते। पूरे देश का औसत भी यही है। जबकि 5 साल की बात करें तो प्रति एक हजार में 49 बच्चों की मृत्यु हो जाती है।

ये भी पढ़ें -आरपीएफ जवान की फुर्ती से बची बुजुर्ग की जान, सामने से आ रही ट्रेन की पटरी से बुजुर्ग को हटाया...देखें सीसीटीवी फुटेज

अन्य राज्यों की बात करें तो केरल में 5 साल तक के 11 बच्चों की ही मौत होती है। यह आंकड़ा राज्यों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की स्थिति पर नीति आयोग के तरफ से जारी किया गया है। जिसमें स्वास्थ्य से जुड़े 23 मापदंडों के आधार पर तैयार किया गया है।

ये भी पढ़ें -सीएम ने व्यापम को बंद करने के दिए निर्देश, अब प्रदेश में सीधी भर्ती से होगी नियुक्तियां

स्वास्थ्य पर करोड़ों खर्च करने वाले छत्तीगसढ़ को 13वां स्थान मिला है। इसमें सबसे पीछे उत्तर प्रदेश, बिहार, उड़ीसा और मध्यप्रदेश हैं। नीति आयोग ने हेल्दी स्टेट्स प्रोग्रेसिव इंडिया नाम से जारी किया है। इसमें बच्चों की मृत्यु दर को लेकर विशेष फोकस किया गया है।

Web Title : Chhattisgarh's 13th position in the case of death of children, the statistics commission released by the niti aayog

जरूर देखिये