हरदिहा साहू समाज के अधिवेशन में शामिल हुए सीएम, कहा- समाज की प्रगति के लिए एकता, संगठन और चरित्र जरूरी

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 18 Jun 2019 07:17 PM, Updated On 18 Jun 2019 07:17 PM

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसी भी समाज की प्रगति के लिए समाज में एकता, संगठन और चरित्र जरूरी है। बघेल मंगलवार को महादेव घाट में आयोजित हरदिया साहू समाज के वार्षिक अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने समाज के लोगों की मांग पर सामाजिक भवन के लिए जगह चिन्हांकित होने पर भूमि आवंटित कराने के लिए आश्वस्त भी किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर भी जोर देना चाहिए। बघेल ने कहा कि खर्चीली शादी जैसी समी सामाजिक बुराई से निजात पाने के लिए हरदिया साहू समाज में सबसे पहले सामूहिक विवाह का फैसला किया है, इसकी जितनी तारीफ की जाए वह कम है। समाज में सबकी सहमति और सबकी भागीदारी से सामूहिक विवाह का अभूतपूर्व फैसला लिया और छत्तीसगढ़ सहित देश को अच्छा रास्ता दिखाया।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर किसानों की ऋण माफी, 25 सौ रूपए प्रति क्विंटल के मूल्य पर धान खरीदी की व्यवस्था जैसे निर्णयों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब हमारे किसान मजबूत होंगे, छत्तीसगढ़ भी मजबूत होगा। बघेल ने कहा कि हर परिवार को 35 किलो चावल देने का फैसला लिया गया है। इसी प्रकार अब शिक्षा को शिक्षा के अधिकार के दायरे में कक्षा 9 वीं से 12वीं तक विद्यार्थियों को भी लाभान्वित किया जाएगा।

90 बिजली ऑपरेटर्स ने काम बंद किया, 6 माह से नहीं मिला है वेतन, कलेक्टर दर पर भुगतान के साथ सुरक्षा सामग्री की मांग 

मुख्यमंत्री ने चिटफंड कम्पनियों के संबंध में कहा कि गरीब व्यक्ति की राशि नहीं डूबे इसके लिए पूरी ताकत से कार्रवाई करेंगे। कार्यक्रम में हरदिहा साहू समाज के प्रदेश अध्यक्ष सोमनाथ साहू, रायपुर परिक्षेत्र के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक नंदकुमार साहू सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे।

Web Title : CM attended the meeting of Hardiha Sahu samaj

जरूर देखिये