निर्वाचन आयोग का बैन हटते ही योगी बोले- 'हिन्दू होना मेरी धार्मिक पहचान'

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 19 Apr 2019 03:30 PM, Updated On 19 Apr 2019 03:30 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर सियासी सरगर्मी लगातार बढ़ते ही जा रही है। वहीं, नेताओं के विवादित बयान पर निर्वाचन आयोग भी सख्त रवैया अपना रही है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बैन हटते ही ट्विटर पर अपनी भड़ास निकाली है। बता दें निर्वाचन आयोग ने चुनावी सभा के दौरान विवादित बयान देने के चलते उनक उपर 72 घंटे तक चुनाव प्रचार करने पर बैन लगा दिया था, जिसके बाद उन्होंने ट्विटर पर अपनी राय पेस्ट की है।


सीएम योगी ने कहा है कि हिन्दू होना उनकी धार्मिक पहचान है और लोकतांत्रिक मूल्यों के तहत उन्होंने चुनाव आयोग के आदेश का सम्मान किया। उनके मंदिर दर्शन को राजनीति से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। राष्ट्र की संवैधानिक संस्थाओं का सम्मान और लोकतांत्रिक मूल्यों का मान भाजपा की विचारधारा का अभिन्न अंग है, विगत 72 घण्टों में मैंने चुनाव आयोग के आदेश का सम्मान किया और उसे समुचित आदर दिया।


योगी ने हनुमान जयंती की बधाई देते हुए कहा, 'हनुमानजी में मेरी अटूट आस्था है और संकटमोचन में इस आस्था के बीच कोई नहीं आ सकता। उनका दृढ़ संकल्पित, समर्पित जीवन मेरे लिए एक प्रेरणास्रोत है। अतुलित भक्ति और अपरिमित शक्ति के प्रतीक श्री हनुमानजी की जयंती पर सभी को शुभकामनाएं।''


एक अन्य ट्वीट में योगी ने कहा, 'मेरी रग रग में राम, कण कण में कृष्ण, प्रत्येक शिरा में शिव और प्रत्येक धमनी में धर्म और कर्तव्य बोध निरंतर प्रवाहित होता रहता है। आज मैं फिर कहना चाहूंगा कि मेरी धार्मिक पहचान हिन्दू है, वह हिन्दू जो भारत मे रहने वाले सभी पंथों और धर्मों का सम्मान समान भाव से आदिकाल से करता आ रहा है।'


योगी ने अयोध्या और वाराणसी में मंदिरों के दर्शन को लेकर अपने ट्वीट में कहा, 'मेरे आराध्य रामलला, बजरंग बली और महादेवजी के दर्शन को किसी भी प्रकार की राजनीति से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि आस्था का अधिकार संविधान प्रदत्त है और मुझे इस अधिकार का प्रयोग करने से कोई रोक नहीं सकता। अयोध्या में रामलला, हनुमान गढ़ी में बजरंग बली और सरयू माता के दर्शन पाकर हुई अनुभूति को शब्दों में व्यक्त कर पाना संभव नहीं है।'


अयोध्या में दलित के घर जाकर भोजन करने का जिक्र करते हुए योगी ने ट्वीट किया, 'प्रधानमंत्री की जनकल्याणकारी योजनाओं से जन-जन कितने प्रसन्न हैं, इसका पता भाई महावीर और उनके परिवार से मिलकर चला। उनकी पत्नी सावित्री द्वारा बनाया गया सादा किंतु सुस्वादु भोजन ग्रहण कर प्रसन्नता हुई। समाज के आखिरी पायदान पर बैठे वंचितों के जीवन में ऐसी खुशियां हों, यही भाजपा का लक्ष्य है।'

दीजिए जवाब और जीतिए इनाम, आप सब से अनुरोध है इसे शेयर जरूर करें

Question 1 - देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा ?

Question 2 - देश में इस बार किसकी सरकार बनेगी ?

Question 3 - देश में किस पार्टी को मिलेगी बहुमत ?

Question 4 - चौकीदार का सियासी जुमला किसे फायदा पहुंचाएगा ?

Question 5 - छत्तीसगढ़ में सिटिंग सांसदों को बदलना बीजेपी के लिए फायदेमंद होगा ?

Question 6 - क्या छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विस चुनाव वाला करिश्मा दोहरा पाएगी ?

Question 7 - क्या लोकसभा चुनाव में महागठबंधन असरदार होगा ?

Question 8 - क्या राफेल मुद्दे से कांग्रेस को फायदा पहुंचेगा ?

Question 9 - क्या एयर स्ट्राइक बीजेपी को चुनावी फायदा देगी ?

Question 10 - क्या इस बार वेस्ट बंगाल में बीजेपी कामयाब होगी ?

Question 11 - क्या राम मंदिर पर इस बार भी बीजेपी को वोट मिलेंगे ?

Question 12 - क्या कश्मीर के फ्रंट पर मोदी सरकार नाकाम रही है?

Question 13 - क्या आतंकवाद के खिलाफ मोदी सरकार की निति प्रभावी रही ?

Question 14 - क्या मप्र, छग, राजस्थान में बीजेपी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा ?

Question 15 - क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी प्रभावी प्रदर्शन करेगी ?

Web Title : CM Yogi Adityanath Says- Hindu is My Religious Identity

जरूर देखिये