कंप्यूटर बाबा ने बुलाई नर्मदा संसद,10 हजार साधु-संत मिलकर तय करेंगे बीजेपी को समर्थन देना है या नहीं

 Edited By: Renu Nandi

Published on 23 Nov 2018 12:11 PM, Updated On 23 Nov 2018 01:24 PM

जबलपुर। विधानसभा चुनाव में बीजेपी सरकार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। शिवराज सरकार से नाराज चल रहे कंप्यूटर बाबा आज जबलपुर में नर्मदे संसद का आयोजन करने जा रहे हैं। जिसमें कहीं न कहीं बीजेपी के सियासी भविष्य का फैसला किया जाएगा ,माना जा रहा है कि अपने गृह नगर में नर्मदा संसद कर रहे कंप्यूटर बाबा नर्मदा संसद के जरिये शक्ति प्रदर्शन भी करेगें। यही वजह है कि इसमें करीब 10 हजार साधु-संतों के आने की संभावना है।

ये भी पढ़ें -राज बब्बर ने साधा निशाना, कहा- जब चुनाव आता है तो बीजेपी राम-नाम का कटोरा लेकर घूमती है

कंप्यूटर बाबा के मुताबिक़ कि नर्मदे संसद में सभी संतो द्वारा तय किया जाएगा कि बीजेपी को समर्थन देना है या नहीं कंप्यूटर बाबा के मुताबिक़ इस संसद के जरिए वह अपने मन का दुखड़ा जाहिर कर रहे है। उमा भारती से लेकर शिवराज तक ने साधु-संतों के नाम से सरकार बनाई, लेकिन आज तक किया कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि इन 15 सालों में साधु ठगा हुआ महसूस कर रहा है. बीजेपी संतों के नाम का मुखौटा पहनकर नर्मदा को बेच कर खा गए इसलिए इस आयोजन के जरिए वह मन की बात करेंगे. क्योंकि उन्हें अब धर्म की सरकार चाहिए है. बाबा ने कहा कि कल संसद में तय किया जाएगा कि समर्थन किसे देना है। हालाकि राज्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद शिवराज सरकार से नाराज चल रहे कंप्यूटर बाबा ने नर्मदे संसद से पहले परिवर्तन यज्ञ भी किया था।

Web Title : Computer Baba Organise Narmada Sansad

जरूर देखिये