कांग्रेस नेता की दिनदहाड़े हत्या, घर का दरवाजा खोलते ही बदमाशों ने दनादन दाग दी दर्जनों गोलियां

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 19 Jul 2019 04:52 PM, Updated On 19 Jul 2019 04:52 PM

पश्चिम चंपारण: बिहार के पश्चिम चंपारण इलाके से कांग्रेस नेता की हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि इलाके के बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। बदमाशों ने पहले कांग्रेस नेता ​को घर के बाहर बुलाया और दरवाजा खोलते ही उस पर ताबड़तोड़ गोलिया बरसानी शुरू कर दी। हालांकि परिजनों उसे आनन—फानन में अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Read More: अस्पताल के ड्रेसिंग रूम में कोबरा, नाग को देख डॉक्टरों की धड़कनें बढ़ी.. देखिए

दरअसल मामला इलके के बगहा गांव का है। जहां अज्ञात बदमाशों ने पहले सरपंच पति और कांग्रेस नेता फखरुद्दीन को फोनकर बाहर निकलने को कहा। फखरुद्दीन ने जैसे ही अपने घर का दरवाजा खोला, बदमाशों ने उसके उपर गोलियां बरसानी शुरू कर दी। इस घटना के बाद गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है।फिलहाल मामले की सूचना मिलने से गांव में पुलिस बल तैनात कर दी गई है। वहीं, दूसरी ओर आरोपियों की संदेह के आधार पर गिरफ्तारी की जा रही है।

Read More: प्रियंका गांधी को हिरासत में लेने पर ​सीएम भूपेश बघेल का ट्विट, ​कहा तानाशाही और अराजक प्रवृत्ति का प्रमाण

फखरुद्दीन इलाके के दबंग नेता के रूप में पहचाने जाते थे। उनकी पत्नी रामनगरिया पंचायत की मुखिया हैं। वर्तमान में फखरुद्दीन पंचायत का ही काम देख रहे थे। उन्होंने विधानसभा चुनाव में भाजपा के दिग्गज चंद्रमोहन राय को कड़ी टक्कर दी थी। राजद के टिकट से रामनगर सीट से चुनाव लड़ते हुए उन्होंने पहली बार में ही भाजपा नेता को कड़ी टक्कर दी थी। हालांकि फखरुद्दीन इस चुनाव में 900 वोट से हार गए थे।

Read More: सदन में अनुपूरक बजट पर चर्चा जारी, रमन सिंह बोले- हास्यास्पद है राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज में 100 रुपए का टोकन सिस्टम

बताया जाता है कि ​फखरुद्दीन ने 2005 में राजनीति में प्रवेश किया था। इससे पहले वे कई अपराधों में लिप्त रहे। इसके बाद उन्होंने फरवरी 2005 में लोजपा के टिकट पर रामनगर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा। अक्टूबर 2005 के विधानसभा चुनाव में फखरूद्दीन ने लोजपा छोड़ राजद का दामन थाम लिया। इसके बाद उन्होंने राजद के टिकट पर रामनगर विधानसभा क्षेत्र चुनाव लड़ा। इसके कुछ समय बाद ही उन्होंने कांग्रेस में प्रवेश कर लिया था।

Read More: नव नियुक्त राज्यपाल अनुसुइया उइके 29 जुलाई को लेंगी शपथ, दरबार हाल में होगा शपथ गहण समारोह

Web Title : congress leader shot dead

जरूर देखिये