शहीद भाई की बंदूक को राखी बांधकर कांस्टेबल बहन ने मनाया रक्षाबंधन, कहा- इसी रायफल से लूंगी नक्सलियों से बदला

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 15 Aug 2019 11:44 PM, Updated On 15 Aug 2019 11:22 PM

रायपुर: अनुकंपा नियुक्ति पर शहीद भाई की जगह नौकरी पाने वाली एक बहन ने अपने भाई के रायफल को रक्षाबंधन के दिन राखी बांधी है। साथ ही कांस्टेबल बहन ने इस बात की भी कसम ली है कि वो अपने भाई के हत्यारे नक्सलियों से भाई की मौत का बदला जरूर लेगी।

Read More: खुद को रोक नहीं पाए मंत्री TS सिंहदेव, जब मिली खबर डायरिया प्रभावित लोगों की, किया इलाके का दौरा

छत्तीसगढ़ पुलिस में कांस्टेबल के पद पर तैनात कविता कौशल का कहना है कि मैं हर साल अपने भाई के रायफल को राखी बांधती हूं। मैने पुलिस की नौकरी इसीलिए ज्वाइन की है ताकि अपने भाई के हत्यारों से बदला ले सकूं। साथ ही उन्होंने सरकार के ये निवेदन किया है कि मैं उसी बंदूक का उपयोग करना चाहता हूं, जो मेरे भाई ने एक बार सेवा में इस्तेमाल की थी। नक्सली कायर होते हैं। मैं दंतेश्वरी सेनानियों में शामिल होना चाहता हूं और अपने भाई की मौत का बदला लेना चाहती हूं।

Read More: राज भवन में नहीं लगाई नेहरू-इंदिरा की तस्वीर, भड़के जनसंपर्क मंत्री ने कहा- फूलछाप अधिकारियों पर चलेगा डंडा

Read More: दुनिया भर में मनाया गया भारत की आजादी का जश्न, भाजपा नेता ने स्विट्जरलैंड में दी 'तिरंगे' को सलामी

गौरतलब है कि कांस्टेबल कविता के भाई राकेश कौशल भी छत्तीसगढ़ पुलिस में नौकरी करते थे। साल 2018 में हुए नक्सली हमले में राकेश कौशल सहित 2 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। इस हमले में एक मीडियाकर्मी की भी मौत हो गई थी।

Read More: गुलामी की जिंदगी से इस गांव के लोगों को मिली आजादी, 73वीं वर्षगांठ में शान से लहराया 'तिरंगा'

Web Title : Constable kiran kaushal celebrate rakshbandhan with martyr Brother's Rifle

जरूर देखिये