8 बदमाशों से दर्जनों हथियार-कारतूस बरामद, लोकसभा चुनाव में कर सकते थे गड़बड़ी

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 13 Mar 2019 04:18 PM, Updated On 13 Mar 2019 04:18 PM

इंदौर । क्राइम ब्रांच ने लोकसभा चुनाव से पहले बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए अवैध हथियारों के सौदागरों के गिरोह का पर्दाफाश किया है। पकड़े गए बदमाशों में एक हथियार बनाने का काम करता है, जबकि अन्य बदमाश इन हथियारों की खरीद फरोख्त का काम करते हैं। 8 बदमाशों से 20 हथियार और 11 कारतूस बरामद किये गए है।

ये भी पढ़ें-बोइंग 737 मैक्स8 की उड़ान पर भारत में लगी रोक, 6 महीने में दो हादसे

लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो सके, इसके लिए आचार संहिता लगने के बाद से पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि धार जिले का रहने वाला सिकलीगर तेरसिंह इंदौर में हथियारों की डिलीवरी देने आ रहा है। सूचना पर घेराबंदी कर पुलिस ने उसे धरदबोचा, तलाशी लेने पर उसके पास से 4 कट्टे और 3 कारतूस बरामद हुए हैं। पुलिस की पूछताछ में सिकलीगर ने कुबूल किया कि वह इंदौर में हथियारों की लम्बे समय से सप्लाई करता आया है। मध्यप्रदेश के कई शहरो के आलावा तेरसिंह महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान और यूपी में भी हथियारों की सप्लाई करता रहा है।

ये भी पढ़ें-भारत ने पोखरण में किया पिनाका गाइडेड मिसाइल का तीसरी बार सफल परीक्षण

आरोपी ने अब तक शहर में कई लोगों को हथियार बेचने की बात भी कबूल की है।आरोपी के बताये अनुसार पुलिस ने देउल पंवार को 1 पिस्टल और 1 कारतूस, मोहम्मद हनीफ को 5 कट्टों और 2 कारतूस, मुबारिक खान को 1 कट्टा और 1 पिस्टल मय कारतूस, सलीम खान को 2 कट्टों और 2 कारतूस, भैरुलाल को 2 कट्टे मय कारतूस, इसरार को 1 कट्टा और 1 पिस्टल मय कारतूस और मनोज निरगुड़े को 2 कट्टों सहित गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़ें- पटाखों से ज्यादा प्रदूषण फैलाते हैं वाहन, किसी का रोजगार छीनना हमार...

पुलिस की माने तो हथियारों की बड़ी खेप हाथ लगने की वजह से होने वाली कई घटनाओं को पहले ही नियंत्रित कर लिया गया है।बता दें कि इनमें से कुछ बदमाश पहले भी हथियारों सहित पकड़े जा चुके है, लेकिन कोर्ट से जमानत होने के बाद इन बदमाशों ने एक बार फिर हथियारों की खरीद फरोख्त शुरू कर दी थी ।

Web Title : Dangerous weapon-cartridges recovered from 8 miscreants, could have failed in Lok Sabha elections

जरूर देखिये