कोचिंग सेंटर में आगजनी से 17 बच्चों की मौत, मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजे का ऐलान

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 24 May 2019 07:14 PM, Updated On 24 May 2019 07:14 PM

सूरत: गुजरात के सूरत में शुक्रवार शाम हुए भीषण आगजनी की घटना में 17 बच्चों की मौत हो गई, वहीं इस हादसे में कई बच्चे घायल हो गए। घटना को लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपणी ने सूरत के कोचिंग सेंटर में हुई घटना दुखद है। इस घटना में मारे गए बच्चों के परिजनों के साथ मेरी संवेदना है। वहीं, उन्होंने मृतकों के परिजनों को 4—4 लाख रुपए देने की घोषणा की है। साथ ही घायलों को उपचार के लिए हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया है।


हादसे में मारे बच्चों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्य​क्त किया है। मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि हादसे में मारे गए बच्चों के परिजनों के साथ मेरी गहरी संवेदना है। बिल्डिंग में फंसे बच्चों को जल्द निकाला लिया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा है कि प्रशासन द्वारा पूरी मदद की जाएगी।


वहीं, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने भी हादसे में मारे गए बच्चों के परजिनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि सूरत, गुजरात से आ रही दुर्घटना की खबर बहुत दुःख पहुंचाने वाली है। मैं ईश्वर से मृतकों के परिवार को संबल प्रदान करने की प्रार्थना करता हूँ। घायलों को जल्द स्वास्थ्य लाभ मिले, ऐसी ईश्वर से कामना करता हूँ।

गौरतलब है कि शुक्रवार दोपहर सरथाना इलाके के एक कोचिंग सेंटर में अचानक आग लग गई। हादसे में 15 बच्चों की मौत हो गई और कुछ बच्चों ने इमारत की छत से कूदकर अपनी जान बचाई। हादसे को लेकर परिजनों ने बताया कि बिल्डिंग में सीढ़ियों की समुचित व्यवस्था नहीं थी, न ही इमरजेंसी एग्जिट की सुविधा है। इसके चलते बच्चों को छत से कूदकर अपनी जान बचानी पड़ी। हालांकि इस बात का खुलासा अभी नहीं हुआ है कि आग कैसे लगी थी।

Web Title : Death toll in fire at at a coaching centre in Sarthana area rises to 17

जरूर देखिये