52 किलोमीटर सायकल यात्रा कर जनता से मिलने पहुंचे धमतरी कलेक्टर

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 12 Mar 2018 06:48 PM, Updated On 12 Mar 2018 06:48 PM

छत्तीसगढ़ के  कलेक्टर आम जनता के कितने करीब हैं इस बात का अंदाज़ इसी से लगाया जा सकता है कि कोई कलेक्टर सिर्फ जनता से मिलने और पर्यावरण जागरूकता लाने 52 किलोमीटर सायकल से यात्रा करे। 

जी हाँ हम बात कर रहे हैं धमतरी कलेक्टर  डॉ सी आर प्रसन्ना की जिन्होंने  जिले के बनरौद से सिहावा तक साइकिल यात्रा की और  सिहावा पहुंचकर ग्रामीणों की समस्याएँ सुनी.

ये भी पढ़े - बस्तर की ये बेटियां हर दिन इंद्रावती नदी पार कर चार हजार लोगों की करती हैं सेवा

 

इतना ही नहीं  कलेक्टर ने रास्ते में पड़ने वाले कई गांवों में लोगों से मिलकर उसकी समस्याएँ भी सुनी. सिहावा पहुँचने पर ग्रामीणों ने कलेक्टर की जमकर स्वागत और खातिरदारी की. सफ़र में कलेक्टर के साथ अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी साइकिल से ही साथ चल रहे थे. आपको बता दें कि कलेक्टर डॉ सी आर प्रसन्ना जिले में लंबे समय से पर्यावरण जागरूकता के लिए वे लगातार अभियान चला रहे हैं. आपको यह भी बता दें कि लोक सुराज अभियान के तहत आयोजित कलेक्टर जनदर्शन में जिले के 83 आवेदकों ने आवेदन देकर अपनी मांगों व शिकायतों के निराकरण के लिए कलेक्टर डॉ. सी.आर. प्रसन्ना के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया, जिस पर उन्होंने शीघ्र निराकरण के लिए टीप लिखकर संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया।

 

ये भी पढ़े - रायपुर के शास्त्री चौक में स्काई वॉक निर्माण के दौरान राहगीर पर गिरा लोहे का रॉड

 ग्राम पंचायत रानीगांव (नगरी) की सरपंच ने मनरेगा मद से बनाए गए शौचालय की शेष राशि अब तक नहीं मिलने की बात कहते हुए राशि जल्द प्रदान करने की गुहार लगाई। स्थानीय हटकेशर वार्ड के पार्षद श्री वेदराम मार्कण्डेय ने वार्ड में पक्की सड़क शीघ्र बनवाने की मांग की। इसी तरह धमतरी के ग्राम अर्जुनी निवासी श्री नोहरसिंह गोंड़ ने बंदोबस्त बैंक से लोन दिलाने की मांग की। स्थानीय कोष्टापारा वार्डवासी श्री संतराम पटेल ने बंदोबस्त त्रुटि सुधार के लिए कलेक्टर को आवेदन दिया।कुरूद के ग्राम गाड़ाडीह निवासी श्री सुखदेव सिंह ने राइस मिल का गंदा पानी खेतों में आने पर रोक लगाने की मांग आज जनदर्शन में की। उन्होंने बताया कि गंदा पानी की समुचित निकासी राइस मिलर्स द्वारा नहीं करने से उसका बहाव खेतों में हो रहा है जिससे खेत की जमीन बंजर होती जा रही है। ग्राम भेण्ड्री (मगरलोड) के श्री दुलेश्वर सिन्हा ने चना की दलहन फसल नष्ट होने की बात कही तथा इसके एवज में क्षतिपूर्ति दिलाने की मांग आज जनदर्शन में की.

वेब टीम IBC24

Web Title : Dhamtari collector travelled 52 kms in cycle to meet public

जरूर देखिये