कमलनाथ सरकार की डिनर डिप्लोमेसी, कर्नाटक- गोवा संकट के बाद मध्यप्रदेश में एकजुटता दिखाने की कोशिश

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 11 Jul 2019 06:23 PM, Updated On 11 Jul 2019 06:23 PM

भोपाल। कर्नाटक और गोवा में नई सरकार बनाने को जारी जोड़तोड़ के बीच मध्यप्रदेश की राजधानी में सुगबुगाहट तेज हो गई है। कांग्रेस को मध्यप्रदेश में पूर्ण बहुमत नहीं मिला है,सरकार बीएसपी और निर्दलीय विधायकों के सहयोग से चल रही है। वहीं नेता प्रतिपक्ष से सहित बीजेपी के कई बड़े नेता मध्यप्रदेश सरकार को कुछ दिन का मेहमान बता चुके हैं। ऐसे में प्रदेश सरकार एकजुटता दिखाने की कोशिश भी कर रही है।

ये भी पढ़ें- कांग्रेस अध्यक्ष बनने के सवाल पर सिंधिया का जवाब, कहा- पार्टी को यु...

गुरुवार शाम राजधानी भोपाल में डिनर के बहाने सरकार अपनी एकजुटता दिखाने की कोशिश कर रही है। मंत्री तुलसी सिलावट के बंगले पर आयोजित डिनर में कांग्रेस और सहयोगी दल के सभी विधायक शामिल होंगे । सरकार को समर्थन दे रहे बीसपी, एसपी और निर्दलीय विधायक भी डिनर में शामिल हो रहे हैं। सीएम कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया, विधायकों के साथ एकजुटता दिखाएंगे।

ये भी पढ़ें- चुनावी वायदों के अमल पर सिंधिया करेंगे पहरेदारी, कहा- कर्नाटक और ग...

कर्नाटक और गोवा संकट के बाद मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार की ताकत दिखाने की कोशिश कर रही है। डिनर में दिग्विजय सिंह, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को भी निमंत्रण भेजा गया है। हालांकि मध्यप्रदेश से बाहर रहने के कारण दोनों नेता इस डिनर में शामिल नहीं होंगे।

ये भी पढ़ें-  एमपी बजट 2019, तीन नए महाविद्यालय खुलेंगे, शिक्षकों के खाली पद जल्द...

इसके पहले गृहमंत्री बाला बच्चन ने बयान दिया है कि मध्य प्रदेश में सरकार गिरने का कोई खतरा नहीं है। बाला बच्चन का यह बयान कर्नाटक और गोवा में मचे सियासी घमासान के बारे में सवाल करने पर आया है। गृहमंत्री ने साफ किया है कि राज्य में ऐसी कोई विषम परिस्थिति नहीं है। सरकार अपनी पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। सरकार को कोई खतरा नहीं है। बता दें कर्नाटक गोवा और मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायकों की खरीद-फरोख्त होने की आशंका जताई गई थी।

ये भी पढ़ें- राजधानी में मासूम से रेप के बाद हत्या मामला, कोर्ट ने 28 दिनों में ...

पार्टी आलाकमान को पत्र लिखकर आगाह किया गया था कि एमपी कैबिनेट से मंत्री कम कर निर्दलीय विधायकों को मंत्री बनाया जाए। लेकिन अब गृहमंत्री के मुताबिक कांग्रेस को कोई खतरा नहीं है। कांग्रेस पांच सालों तक सरकार चलाएगी। बाला बच्चन के मुताबिक कमलनाथ कैबिनेट में जल्द एक और मंत्री को शामिल किया जाएगा। उन्होंने सुरेंद्र सिंह शेरा को मंत्रिमंडल में शामिल करने की बात कही है।

Web Title : Dinner diplomesee of Kamal Nath Government Karnataka-Goa crisis after trying to show solidarity in Madhya Pradesh

जरूर देखिये