65 साल में रिटायर होंगे डॉक्टर, सुरक्षा को लेकर भी केंद्र के अहम फैसले

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 27 Sep 2017 07:08 PM, Updated On 27 Sep 2017 07:08 PM

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की आज हुई महत्वपूर्ण बैठक में पुलिस सुधार, आंतरिक सुरक्षा, महिला सुरक्षा और चिकित्सा सेवाओं में सुधार को लेकर अहम निर्णय किए गए हैं। ये निर्णय कितने अहम हैं, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इसकी जानकारी देने के लिए तीन केंद्रीय मंत्रियों राजनाथ सिंह, रविशंकर प्रसाद और जे पी नड्डा ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया।

केंद्रीय कैबिनेट ने दी न्यूनतम वेतन विधेयक को मंजूरी....

केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक संपन्न होने के बाद इसके फैसलों की जानकारी देते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि कैबिनेट ने पुलिस आधुनिकीकरण योजना को मंजूरी दी है. इस योजना पर 25,060 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि आंतरिक सुरक्षा, महिला सुरक्षा पर चर्चा की गई. आंतरिक सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए देश के नक्सल प्रभावित 35 जिलों में पुलिस अपग्रेडेशन पर 3 हजार करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी दी गई है। इनके अलावा पूर्वोत्तर के राज्यों के लिए 100 करोड़ की राशि को स्वीकृति दी गई है। आंतरिक सुरक्षा के मद्देनजर हेलीकॉप्टरों की खरीद बढ़ाए जाने पर भी मुहर लगी है।

2019 लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी का कोई मुकाबला नहीं

एक अन्य अहम फैसले में सरकारी डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र 65 साल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। कैबिनेट ने केंद्रीय स्वास्थ्य सेवा (CHS) के अलावा अन्य डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र को 62 साल से बढ़ाकर 65 साल करने पर मुहर लगा दी है। इस फैसले से केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों और विभागों के लगभग 1445 डॉक्टरों को फायदा पहुंचेगा.  प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्रियों ने बताया कि संबंधित मंत्रालयों-विभागों, आयुष मंत्रालय (आयुष चिकित्सक), रक्षा विभाग (सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा महानिदेशक के अधीन सिविलियन चिकित्सक), रक्षा उत्पादन विभाग (भारतीय आयुध कारखाने, स्वास्थ्य सेवा चिकित्सा अधिकारी), स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के अधीन दंत चिकित्सक, रेल मंत्रालय के अधीन दंत चिकित्सक और उच्चतर शिक्षा विभाग के अधीन उच्चतर शिक्षा तथा तकनीकी संस्थानों में कार्यरत चिकित्सक के प्रशासनिक नियंत्रणाधीन चिकित्सकों की सेवानिवत्ति आयु बढ़ाकर 65 वर्ष कर दी गई है।   

दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर नरेंद्र मोदी के खिलाफ उपयोग किए अपशब्द

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री जे पी नड्डा ने इसे दूरदष्टि वाला फैसला बताया है, जो देश में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करेगा। नड्डा ने कहा कि इस से अनुभवी डॉक्टरों की सेवाएं मिलेंगी और जनता को लाभ होगा। मंत्रिमंडल ने संबंधित मंत्रालयों विभागों संगठनों को प्राशासनिक पद का कार्यभार संभालने वाले चिकित्सकों की आयु के संबंध में कायार्त्मक अपेक्षाओं के अनुसार समुचित निर्णय लेने की शक्तियां भी प्रदान कर दी हैं।

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा को लेकर किए गए सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा कि पूरा विश्व मान रहा है कि आज भारत सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है। यशवंत सिन्हा ने केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली पर निशाना साधते हुए अर्थव्यवस्था की मौजूदा स्थिति पर सवाल उठाए हैं।

Web Title : Doctor will retire in 65 years, Important decisions of the Center Gov. regarding safety

जरूर देखिये