उमा ने दिग्विजय को कहा-15 साल पुराने पिटे मोहरे, गरमाई सियासत, भोपाल से चुनाव लड़ने से किया इंकार

Reported By: Sudhir Dandotiya, Edited By: Renu Nandi

Published on 15 Apr 2019 02:33 PM, Updated On 15 Apr 2019 02:40 PM

भोपाल। मध्य प्रदेश की सीट देश के लिए हाई प्रोफ़ाइल सीट मानी जा रही है। दरअसल बीजेपी के लिए सुरिक्षित माने जाने वाली भोपाल सीट पर कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री मैदान में उतारकर बीजेपी को मुश्किल में डाल दिया है। यही वजह है कि दिग्विजय सिंह के सामने बीजेपी के नेता भले ही यह कह रहे हो की दिग्विजय सिंह को कोई भी सामान्य कार्यकर्ता चुनाव हरा देगा पर बीजेपी ही दिग्विजय सिंह के सामने मैदान में उतरने से कतरा रहे है।

ये भी पढ़ें -प्रचार का अनोखा अंदाज़, भैंस की पीठ पर स्लोगन लिखकर मांग रहे वोट

दरअसल मध्य प्रदेश की बहुचर्चित और हाईप्रोफाइल सीट भोपाल पर घमासान जारी है। एक ओर कांग्रेस के प्रत्याशी दिग्विजय सिंह रात दिन एक कर रहे हैं। तो उधर बीजेपी अब तक अपना प्रत्याशी घोषित नहीं कर पाई है। इस सीट पर दिग्विजय सिंह के सामने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और उमा भारती लड़ने की खबरों ने जोर पकड़ा ही था की दोनों नेताओ ने दिग्विजय सिंह के सामने चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया। बीजेपी के दिग्गज नेताओ के इंकार को कांग्रेस अपनी जीत मानकर चल रही है।

ये भी पढ़ें -उर्मिला मातोंडकर के चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं औ

ज्ञात हो कि भोपाल से सांसद रहीं पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने चुनाव न लड़ने का एलान करते हुए दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह 15 साल पुराने पिटे मोहरे है। दिग्विजय सिंह को तो बीजेपी का छोटा सा कार्यकर्ता ही हरा देगा. उनके लिए मौजूदा सांसद अलोक संजर ही काफी है। साथ ही कार्यकताओ को लिखे सन्देश में उमा भारती ने यह जरूर कहा कि पार्टी उम्मीदवार जल्दी घोषित करे। अगर उम्मीदवार का नाम बड़ा होगा तो दिग्विजय सिंह बड़े नेता हो जाएंगे। उनका मानना है कि भोपाल से साधारण कार्यकर्ता को खड़ा करना चाहिए। उमा ने भोपाल के लिए आलोक संजर, कृष्णा गौर, आलोक शर्मा, रामेश्वर शर्मा, शैलेंद्र शर्मा, भगवान दास सबनानी और विश्वास सारंग के नाम सुझाए। उन्होंने कहा कि इनमें से कोई भी दिग्विजय को हरा देगा। भोपाल से उम्मीदवार तय करने का अधिकार मेरे पास नहीं है। दिग्विजय को हराना कठिन काम नहीं है।वहीं उमा भारती ने अपनी ओर से भले ही सात नाम सुझाये पर भोपाल से दिग्विजय सिंह बड़े नेताओ के चुनाव लड़ने से इंकार के बाद बीजेपी के कार्यकर्ता मायूस है। वंही दिग्विजय सिंह के सामने भोपाल से भाजपा का प्रत्याशी कौन होगा? ये सबसे बड़ा सवाल अब भी बना हुआ है।

Web Title : election 2019: Uma called Digvijay as old man

जरूर देखिये