निर्वाचन आयोग ने प्रज्ञा के बयान पर कलेक्टर से मांगी रिपोर्ट, उधर साध्वी ने मांगी माफी

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 16 May 2019 10:36 PM, Updated On 16 May 2019 10:36 PM

भोपाल: लोकसभा चुनाव 2019 के चुनावी समर में छठवें चरण का मतदान संपन्न होने के बाद सातवें और अंतीम चरण के लिए राजनीतिक दलों के बीच घमासान जारी है। वहीं, भोपाल सीट पर चुनाव होने के बाद भी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का सियासी बयानबाजी थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। गुरुवार को प्रज्ञा द्वारा नाथूराम गोडसे पर दिए बयान के बाद से मध्यप्रदेश में एक बार फिर सियासी पारा गरमा गया है। मामले को लेकर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने कलेक्टर से बयान की रिपोर्ट मांगी है। हालांकि साध्वी ने अपने बयान के लिए माफी मांगते हुए कहा है कि मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है।


वीएल कांताराव ने आगर मालवा कलेक्टर को निर्देश जारी करते हुए गुरुवार रात में ही रिपोर्ट प्रस्तूत करने को कहा है। इसके बाद से कलेक्टर रिपोर्ट तैयार करने में जुट गए हैं। इससे पहले साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान पर संज्ञान लिया है। आयोग ने मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से इस बारे में रिपोर्ट मांगी है।


गौरतलब है कि गुरुवार को देवास बीजेपी प्रत्याशी महेंद्र सोलंकी के पक्ष में प्रचार करने पहुंची आगर-मालवा भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साधी प्रज्ञा ने एक बार फिर विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। उनको आतंकवादी बोलने वाले लोग स्वयं के गिरेबान में झांक कर देखें, ऐसा बोलने वालो को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा। हालांकि साध्वी प्रज्ञा के इस बयान की चौतरफा आलोचना हुई और बीजेपी ने इसे उनका व्यक्तिगत बयान बताते हुए पल्ला झाड़ने साथ ही उन्हें सार्वजनिक माफी मांगने कहा।

Read More: तीनों सेना के खतरनाक जवानों की 'आर्म्ड फोर्सेज स्पेशल ऑपरेशंस डिविजन' को मंजूरी, जानिए क्या है खासियत

वहीं भोपाल से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने साध्वी के इस बयान पर कहा कि भाजपा के लोगों को देश से मांफी मांगना होगी। नरेंद्र मोदी, अमित शाह और भाजपा के सभी नेता इस बयान पर देश से माफी मांगें। दिगिविजय ने आगे कहा कि राष्ट्र के खिलाफ जो शब्दों का उपयोग किया गया, मैं उसकी निंदा करता हूं। नाथूराम गोडसे एक हत्यारा था, उसको महामंडित करना राष्ट्रीयता नहीं है, बल्कि राष्ट्रद्रोह है।

दीजिए जवाब और जीतिए इनाम, आप सब से अनुरोध है इसे शेयर जरूर करें

Question 1 - देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा ?
Question 2 - देश में इस बार किसकी सरकार बनेगी ?
Question 3 - देश में किस पार्टी को मिलेगी बहुमत ?
Question 4 - चौकीदार का सियासी जुमला किसे फायदा पहुंचाएगा ?
Question 5 - छत्तीसगढ़ में सिटिंग सांसदों को बदलना बीजेपी के लिए फायदेमंद होगा ?
Question 6 - क्या छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विस चुनाव वाला करिश्मा दोहरा पाएगी ?
Question 7 - क्या लोकसभा चुनाव में महागठबंधन असरदार होगा ?
Question 8 - क्या राफेल मुद्दे से कांग्रेस को फायदा पहुंचेगा ?
Question 9 - क्या एयर स्ट्राइक बीजेपी को चुनावी फायदा देगी ?
Question 10 - क्या इस बार वेस्ट बंगाल में बीजेपी कामयाब होगी ?
Question 11 - क्या राम मंदिर पर इस बार भी बीजेपी को वोट मिलेंगे ?
Question 12 - क्या कश्मीर के फ्रंट पर मोदी सरकार नाकाम रही है?
Question 13 - क्या आतंकवाद के खिलाफ मोदी सरकार की निति प्रभावी रही ?
Question 14 - क्या मप्र, छग, राजस्थान में बीजेपी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा ?
Question 15 - क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी प्रभावी प्रदर्शन करेगी ?
Question 16 -क्या दिग्विजय सिंह भोपाल का चुनाव जीत पाएंगे ?
Question 17- क्या छत्तीसगढ़ में इस बार मोदी लहर है ?
Question 18- क्या प्रियंका गाँधी कांग्रेस के लिए गुडलक साबित हो पाएंगी ?

Web Title : Election Commission has sought factual report from Chief Electoral Officer

जरूर देखिये