उर्जा मंत्री का बड़ा बयान, कहा- 4 महीने में एक बार आएगा बिजली बिल! रेवेन्यू कलेक्शन के लिए बनेगी नई नीति

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 20 Aug 2019 04:28 PM, Updated On 20 Aug 2019 04:28 PM

भोपाल: मध्यप्रदेश के उर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए बड़ा बयान दिया है। प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि प्रदेश के आदिवासी परिवार को 25 यूनिट बिजली सप्लाई की जाती है। अब इन उपभोक्ताओं को चार म​हीने में एक बार बिजली बिल ​दिया जाएगा।

Read More: दलाली का पोस्टकार्ड: तबादले के नाम पर माफियाओं का नया हथकंडा, पोस्टकार्ड भेजकर कहा- संपर्क करें

उन्होंने आगे कहा कि बिजली कंपनी घाटे में चल रही है। कंपनी को 2013 से 2018 के बीच 24 हजार करोड़ का घाटा हुआ। जबकि 2015 से 2018 के बीच कंपनियों को ज्यादा घाटा उठाना पड़ा है।

Read More: करेंट लगने से इंजीनियर की मौत, परिजनों ने कंपनी पर लापरवाही का आरोप लगाया, शव का पीएम कराने से किया मना

रेवेन्यू कलेक्शन को लेकर अधिकारियों को सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है। डिफाल्टर लिस्ट के चलते रेग्युलर ग्राहकों को नुकसान उठाना पड़ता है। रेवेन्यू कलेक्शन को लेकर नई नीति तैयार की जा रही है जो कि रेग्यूलर अपभोक्ताओं को प्रत्साहित किया जा सके।

Read More: विचाराधीन कैदी ने जेल में लगाई फांसी, बलात्कार का आरोपी था मृतक कैदी

सभी प्रभारी मंत्रियों को भी रेवेन्यू कलेक्शन के संबंध में कमेटी बनाकर चर्चा करने का निर्देश दिया गया है। बिजली का टैरिफ 7 % बढ़ाने पर ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि शिवराज सरकार ने 2015 से 2018 के बीच 27% बिजली के दाम बढ़ा दिए थे।

Read More: एलिफेंट रिजर्व का ​ग्रामीणों ने किया ​विरोध, कलेक्टर कार्यालय पहुंचे ग्रामीण, 15 अगस्त को सीएम ने की थी घोषणा

Web Title : Energy Minister priyavrat singh's statement on electricity bill

जरूर देखिये