नक्सल हमले में मारे गए बीजेपी विधायक भीमा के परिवार ने की वोटिंग, पत्नी और पिता बोले- हमें न्याय चाहिए

Reported By: Vedprakash Sangam, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 11 Apr 2019 03:28 PM, Updated On 11 Apr 2019 05:03 PM

दंतेवाड़ा: लोकतंत्र के महापर्व का आखिरकार वो दिन भी आ गया जब लोगों ने अपने अधिकार का प्रयोग किया, यानि मतदान का दिन। आज भारत की 91 सीटों पर पहले चरण का मतदान संपन्न हो रहा है। इस पर्व में अपने अधिकार का प्रयोग करने के लिए लोगों में अलग ही उत्साह देखने को मिला है। वहीं, छत्तीसगढ़ के बस्तर में पहले चरण के मतदान के दौरान एक अनोखा नजारा देखने का मिला।

Read More: टीडीपी नेता भास्कर रेड्डी की हत्या, दो गुटों की झड़प में भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला

दरअसल सोमवार शाम हुए नक्सली घटना में मारे गए दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी के परिवार के लोग भी मतदान करने पहुंचे और अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदान के बाद उन्होंने सरकार से यह अपील की है कि उनके परिवार को न्याय दिलाएं। इससे पहले नक्सलियों ने गदापाल सहित पूरे बस्तर में लोकसभा चुनाव 2019 का बहिष्कार करने का फरमान जारी किया था।

Read More: मामूली विवाद में पति ने की पत्नी की हत्या, फरार आरोपी को ढूंढने में जुटी पुलिस

मतदान के बाद दिवंगत विधायक भीमा मंडावी के परिजनों ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह षडयंत्र पूर्ण घटना थी। हमें 3:30 बजे धमकी मिली थी और 5 बजे मौत की खबर आ गई। इस घटना की सीबीआई जांच होनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि यह बहुत ही शर्मना​क घटना है कि किसी विधायक पर ऐसा हमला हो।

Read More: नक्सलियों ने लगाया आईईडी, जवानों ने कहा- आगे जाने वाले खुद जिम्मेदार, इस गांव के लोगों ने आजादी के दशकों बाद किया मतदान

गौरतलब है कि सोमवार शाम लगभग 4 बजे भीमा मंडावी किरंदुल में चुनावी सभा को संबोधित कर लौट रहे थे। इसी दौरान उनका काफिलजा नक्सलियों के बिछाए आईईडी की चपेट में आ गए। हादसे में विधायक भीमा मंडावी की मौत हो गई और सुरक्षा में तैनात 4 जवान शहीद हो गए। बता दें धमाका इतना जबर्दस्त था कि रोड पर 7 फीट गढ्ढे हो गए और एंटी लैंडमाइन के परखच्चे उड़ गए।

Web Title : Family of departed MLA Bheema Mandavi casts Vote in Gadapal

जरूर देखिये