'मानवता के लिए अपनी हम मानवता नहीं भूल सकते'

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 30 Sep 2017 03:44 PM, Updated On 30 Sep 2017 03:44 PM

 

नागपुर में आरएसएस की स्थापना दिवस के मौके और विजयदशमी पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने देश के कई अहम मुद्दों पर चर्चा किया. मोहन भागवत ने रोहिंग्या मुसलमानों को देश के लिए खतरा बताया है, भागवत ने कहा जब म्यांमार को रोहिंग्या पर आतंकी गतिविधियों के चलते कड़ा कदम उठाना पड़ा है, इसलिए उन्हें अपना देश छोड़ना पड़ा. लेकिन हम उन्हे शरण देते हैं तो हमें में भी उनसे खतरा रहेगा. 'हम मानवता के लिए अपनी मानवता नहीं खो सकते. 

रोहिंग्या शरणार्थियों को देश की सुरक्षा के लिए खतरा मानती है सरकार

उन्होंने कहा कि अगर रोहिंग्या को इस देश में रहने की अनुमति दी जाती है, तो वे हमारे देश के लिए खतरा बन जाएंगे. भागवत ने कश्मीर मुद्दे का हवाला देते हुए कहा है कि जिस तरह से कश्मीर में अलगाववादियों को हैंडल किया गया है. उसका सकारात्मक असर दिख रहा है. अलगाववादियों के अवैध आर्थिक स्त्रोंतों को खत्म कर सरकार ने उनके झूठे प्रोपगेंडा और भड़काऊ कार्रवाई को नियंत्रित किया है.

रोहिंग्या मुसलमानों को वापस नहीं भेज सकता भारत - UN मानवाधिकार परिषद

भागवत ने कहा कि जम्मू कश्मीर के शरणार्थियों की समस्या का अब तक समाधान नहीं हो पाया है. उनके पास बेसिक सुविधाएं नहीं है और उन्हें अब भी संघर्ष करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि संविधान में आवश्यक सुधार होने चाहिए और जम्मू कश्मीर से जुड़े पुराने प्रतिबंधों को बदला जाए.

गौरक्षा को हिंसा से जोड़ना ठीक नहीं

गौरक्षा के मुद्दे पर भागवत ने कहा कि इसे हिंसा से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए. मुस्लिम भी गौ रक्षक हैं और उन पर भी हमले हुए हैं. गौ रक्षा के नाम पर हिंसा नहीं होनी चाहिए. रक्षा और सतर्कता शब्द का कुछ लोगों ने दुरुपयोग किया है.

रोहिंग्या मुसलमानों के लिए जामा मस्जिद के इमाम ने सऊदी किंग को लिखा पत्र

उन्होंने कहा कि हालात ऐसे हैं कि बहुत सारे लोग गौ तस्करों द्वारा मारे जा रहे हैं. हमें धर्म से परे हटकर गौ रक्षा के मुद्दे को देखना चाहिए. बहुत सारे मुस्लिमों ने गौ रक्षा के लिए अपनी जान दी है. गाय की रक्षा बजरंग दल के लोगों की तरह होनी चाहिए. छोटे किसानों की खुशहाली के लिए गाय बहुत जरूरी है. संविधान में भी गाय की रक्षा और गाय आधारित कृषि का उल्लेख है.

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : For humanity we can not forget humanity

जरूर देखिये