टेस्ट क्रिकेट इतिहास में पहली बार एक मैच में खेले 12 खिलाड़ी..जानिए क्या है मामला

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 19 Aug 2019 10:47 AM, Updated On 19 Aug 2019 10:47 AM

नई दिल्ली। क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब एक ही मैच एक खिलाड़ी की जगह दो खिलाड़ी खेलें हों। इंग्लैंड में खेली जा रही एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट में यही देखने को मिला। ऑस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ कंगारू टीम की पहली पारी में चोटिल हो गए तो उनके स्थान पर मार्नस लाबुशेन को मौका दिया गया।

read more : धरती पर अपनी अच्छी सेहत संदेश भेजा चंद्रयान-2, जानिए चंद्रयान-2 का भेजा गया ये संदेश

दरअसल ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ लॉर्ड्स टेस्ट की अपनी पहली पारी में युवा तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की गेंद पर घायल हो गए। आर्चर की उछाल लेती एक गेंद स्मिथ की गर्दन पर जा लगी। जब स्टीव स्मिथ यहां 80 रनों के निजी स्कोर पर बैटिंग कर रहे थे तब आर्चर की 148.7 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार भरी एक गेंद सीधे गर्दन पर जा लगी।

read more : एयरपोर्ट पर महिला यात्री के बैग से मिला कारतूस, तफ्तीश में जुटी पुलिस, जानिए

मैच के चौथे दिन यह घटना घटी थी। स्मिथ ने उस दिन तो उबरकर बाद में अपनी बैटिंग भी पूरी की लेकिन जब 5वें दिन की सुबह वह उठे तो उन्हें चक्कर, सिर में दर्द की शिकायत की और बाकी के बचे लॉर्ड्स टेस्ट से अपना नाम वापस ले लिया। ऑस्ट्रेलिया ने 5वें दिन की सुबह मैच रेफरी रंजन मदुगले से स्मिथ की जगह मार्नस लाबुशेन को टीम में शामिल करने का निवेदन किया, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

read more : रोहित और कोहली के बीच अभी है दरार? चयन समिति ने पूछा कैसे निकलेगा हल

1 अगस्त से आईसीसी ने क्रिकेट में कुछ नए नियमों को मान्यता दी है। 1 अगस्त से टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत हो चुकी है और इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही एशेज सीरीज भी इसी का हिस्सा है। अब क्रिकेट में नया नियम है यह है कि अगर किसी खिलाड़ी के सिर या गर्दन में चोट लगती है तो उसके स्थान पर किसी दूसरे खिलाड़ी को मौका दिया जा सकता है।

read more : टेस्ट सीरीज से पहले ब्रायन लारा के घर हुई पार्टी, भारतीय खिलाड़ी भी...

142 साल के टेस्ट इतिहास में पहली बार पहले चोटिल खिलाड़ी की जगह मैदान में उतरने वाले खिलाड़ी ने बैटिंग भी की। इसके पहले सिर्फ क्षेत्ररक्षण कर सकता था, लेकिन अब मैच में पूर्ण रूप से भाग ले सकता है। टेस्ट इतिहास में यह पहला मौका है जब कोई खिलाड़ी किसी टेस्ट मैच के बीच में बतौर सबस्टीट्यूट प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया। इतिहास का पहला ऑफिशल टेस्ट मैच इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 15 से 19 मार्च, 1877 में खेला गया था।

Web Title : For the first time in Test cricket history, 12 players played in a match .. what is the matter

जरूर देखिये