पूर्व सीएम ने ट्वीट कर कहा- क्या अब अभिव्यक्ति की आजादी अपराध है?, जानिए पूरा मामला

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 15 Jun 2019 02:26 PM, Updated On 15 Jun 2019 02:26 PM

रायपुर। सोशल मीडिया पर बिजली कटौती संबंधित मामलों को लेकर आरोपी के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किए जाने पर पूर्व सीएम रमन सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि क्या अब अभिव्यक्ति की आजादी अपराध है? जो आम नागरिक को राजद्रोह की धारा झेलनी पड़ी।

ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव के बाद भी हिंसा जारी, 3 TMC कार्यकर्ताओं की हत्या, परिजनों ने कांग्रेस नेताओं पर 

इसके साथ पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा है कि क्या देश के किसी मुख्यमंत्री के पास डीजीपी को धारा हटाने का आदेश देने का संवैधानिक अधिकार है? उन्होंने ये भी कहा कि क्या आप प्रदेश की लोकतंत्र व्यवस्था को ध्वस्त कर बंगाल बनाना चाहते हैं?


ये भी पढ़ें: वर्ल्ड कप 2019: आज खेले जाएंगे 2 मैच, दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान इधर 

बता दे कि सोशल मीडिया पर बिजली कटौती संबंधित मामलों को लेकर भ्रामक जानकारी फैलाने वाले व्यक्ति के खिलाफ छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी के द्वारा एफआईआर कराए जाने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। पकड़े गए आरोपी के खिलाफ लोगों में विद्रोह फैलाकर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। लेकिन राजद्रोह का मुकदमा दर्ज होने का मामला जैसे ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संज्ञान में आया, इसे उन्होंने गंभीरता से लेते हुए तत्काल डीजीपी को फोन कर राजद्रोह की धारा हटाने का निर्देश दिए।

Web Title : Former CM tweeted:s the freedom of expression now a crime?, Know the whole case

जरूर देखिये