डिप्थीरिया से मौत के बाद जागा स्वास्थ्य अमला, पिछली डेट में लगा रहा डीपीटी के टीके

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 12 Sep 2017 12:52 PM, Updated On 12 Sep 2017 12:52 PM

जांजगीर-चाम्पा जिले में डिप्थीरिया बीमारी से 1 बच्ची की मौत हो गई है. मालखरौदा ब्लाक के पिरदा गांव में 6 साल की बच्ची की मौत डीपीटी का टीका नहीं लगने की वजह से हो गई. इससे पहले पामगढ़ के डुड़गा गांव में एक 6 साल की बच्ची की डिप्थीरिया बीमारी से मौत हो चुकी है। जिले में 8 बच्चे डिप्थीरिया बीमारी से पीड़ित हुए थे. सभी का इलाज बिलासपुर के निजी अस्पताल में चल रहा है, जिसमें 2 बच्चियों की मौत हो गई. इस मामले के सामने आने के बाद, राज्य टीकाकरण अधिकारी अमर सिंह ने भी पामगढ़ का दौरा किया।

जिले में पामगढ़ के डुड़गा, मालखरौदा के पिरदा, बम्हनीडीह के कपिसदा, अमरूवा, सक्ती के बेल्हाडीह बलौदा के लीमभाठा और नवागढ़ के पेंड्री, धाराशिव गांव में मामले सामने आए हैं, जिसके बाद डिप्थीरिया बीमारी को लेकर स्वास्थ्य महकमे में हड़कम्प मच गया और मामला उजागर होने के बाद जागे स्वास्थ्य अमले ने सर्वे शुरू किया. सर्वे के बाद गांवों में सैकड़ों बच्चों को डीपीटी का टीका लगाया गया। बच्चों की मौत के बाद जागे स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों को पिछले डेट डालकर डीपीटी का टीका लगाया और इस लापरवाही को भी छिपाने की कोशिश की गई।

 

 

Web Title : health department awake After a death from diphtheria,

जरूर देखिये