चुनावी रंग में कितने स्टार का चला जादू और कितने हुए फेल

Reported By: Neelam Ahiwar, Edited By: Renu Nandi

Published on 24 May 2019 07:54 PM, Updated On 24 May 2019 07:54 PM

मुंबई। इन दिनों पूरा भारत रंगा हुआ है चुनावी रंग में ऐसे में सिल्वर स्क्रीन के चमचमाते स्टार्स ने भी तड़का लगाया ..जी हां चुनाव में नेता किस्मत तो आजमाते ही हैं, लेकिन इस बार सियासी दंगल में अभिनेताओं ने भी अपनी किस्मत आजमाई। जिसके रिजल्ट आ चुके हैं। .तो आइए देखते हैं पर्दे पर चमकने वाले इन सितारों में से कौन कौन से स्टार्स जनता के भरोसे को जीतकर चमके और कौन बुरी तरह हारे।दमदार अभिनय का लोहा मनवा चुके सनी देओल ने पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से चुनावी दंगल लड़ा और कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सुनील जाखड़ को पटखनी दी।

 

भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' ने बीजेपी के साथ अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की। बीजेपी ने निरहुआ को उस सीट से उतारा, जहां सपा प्रमुख अखिलेश यादव चुनावी मैदान में थे। यूपी की आजमगढ़ लोकसभा सीट पर दिनेश लाल यादव और अखिलेश यादव के बीच सीधा मुकाबला था, लेकिन यहां निरहुआ का स्टारडम बीजेपी के काम नहीं आया और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इस गढ़ को बरकरार रखा।

वहीं भोजपुरी और हिंदी सिनेमा के स्टार रवि किशन योगी आदित्यनाथ का गढ़ रही गोरखपुर सीट से बीजेपी के टिकट पर लड़े। उनका मुकाबला कांग्रेस के मधुसूदन तिवारी और गठबंधन प्रत्याशी समाजवादी पार्टी के राम भूवल निषाद से था। लेकिन रवि जनता का भरोसा जीतने में कामयाब हुए और उन्होंने जीत हासिल की।

सिंगर हंसराज हंस भी चुनावी मैदान में उतरे। भाजपा ने उन्हें उत्तर पश्चिमी दिल्ली से उतारा। उनके सामने कांग्रेस के राजेश लिलोठिया और आम आदमी पार्टी के गुग्गन सिंह रंगा मैदान में थे। लेकिन हंस राज हंस ने यहां सबको चित कर दिया।

वहीं भाजपा की ओर से मनोज तिवारी ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री कांग्रेस उम्मीदवार शीला दीक्षित को चुनौती दी। उन्होंने आप नेता दीलीप तिवारी और शीला दीक्षित को हराकर जीत दर्ज की।बॉलिवुड सिंगर बाबुल सुप्रियो ने 2014 में भाजपा का हाथ थामा था। उन पर भरोसा जताते हुए उन्हें केंद्रीम मंत्री बनाया गया है। बाबुल आसनसोल सीट से चुनाव लड़ा। उन्होंने यहां टीएमसी की उम्मीदवार मुनमुन सेन को हराकर मैदान फतह कर लिया।

उत्तरप्रदेश की फतेहपुर सीकरी से कांग्रेस ने अभिनेता राज बब्बर को टिकट दिया। उनके सामने भाजपा ने राजकुमार चाहर को मैदान में उतारा। महागठबंधन ने श्रीभगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित पर भरोसा जताया लेकिन यहां राज बब्बर को करारी शिकस्त मिली।पंजाब की संगरूर सीट पर आम आदमी पार्टी के कैंडिडेट भगवंत मान ने जीत हासिल की।बंगाली सिनेमा के सुपर स्टार देव यानी दीपक अधिकारी को ममता बनर्जी ने TMC से इस बार पश्चिम बंगाल की घटल सीट से मैदान में उतारा । 2014 में भी देव जीते थे। और इस बार भी उन्होंने अपनी जीत बरकरार रखी।

साउथ सिनेमा के शानदार एक्टर प्रकाश राज ने भी इस चुनाव में अपनी किस्मत आजमाई। प्रकाश राज ने पहली बार कर्नाटक की बेंगलुरु सेंट्रल लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा। इस सीट पर बीजेपी के पीसी मोहन पिछले दो बार से लगातार जीतते आ रहे थे और उन्होने तीसरी जीत हासिल की और प्रकाश राज को हार का सामना करना पड़ा।

करीब तीन दशक से बीजेपी से जुड़े रहे दिग्गज नेता और हिंदी सिनेमा के ‘शॉट गन’ शत्रुघ्न सिन्हा लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए। पटना साहिब सीट से शत्रुघ्न सिन्हा का मुकाबला भाजपा के रविशंकर प्रसाद से था। लेकिन शत्रुघ्न सिन्हा को यहां से हार का सामना करना पड़ा।

Web Title : How many stars played magic in election and how many fails

जरूर देखिये