‘साइंटिस्ट बन नए अविष्कार करना चाहती हूं’, भूमिका गुप्ता, टीकमगढ़

 Edited By: Shahnawaz Sadique

Published on 07 Aug 2019 07:42 PM, Updated On 07 Aug 2019 07:42 PM

काम करो ऐसा कि पहचान बन जाए, हर कदम ऐसा चलो कि निशान बन जाए। यहां जिंदगी तो सभी काट लेते है, जिंदगी जियो ऐसी कि मिसाल बन जाए। यही सोच लेकर सफलता की सीढ़ियां चढ़ रही है भूमिका गुप्ता।

भूमिका गुप्ता ने 12वीं में जिला निवाड़ी व टीकमगढ़ में प्रथम स्थान हासिल किया है। बचपन से ही पढाई में रुचिवान रही भूमिका ने आठवीं तक की शिक्षा इंग्लिश मीडियम में प्राप्त की। नवमीं कक्षा में इंग्लिश मीडियम में पृथ्वीपुर में सुविधा न होने के कारण माता-पिता ने ब्राइट कैरियर कान्वेंट हायर सेकंडरी स्कूल पृथ्वीपुर में प्रवेश दिलाया। बारहवीं कक्षा तक की शिक्षा यहीं से प्राप्त की। भूमिका ने पढ़ाई के साथ-साथ मां के कामों में हाथ बंटाया। एक से दो घंटे खेल व मनोरंजन के लिए दिया, लेकिन स्कूल का कार्य व कोचिंग के लिए पर्याप्त समय दिया। भूमिका बताती है कि उसे मां से आवश्यक घरेलू कार्य सीखने में मदद मिली, वहीं पिता से शिक्षा के महत्त्व और समाज हित में इसके उपयोग के लिए प्रेरणा मिली। भूमिका का लक्ष्य आगे चलकर साइंस के क्षेत्र में कुछ विशेष करने का है। वह साइंटिस्ट बनकर समाज और देश में अपना योगदान देना चाहती है। भूमिका भोपाल या दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीएससी ऑनर्स कर आगे साइंस के क्षेत्र से जुड़कर दिल्ली यूनिवर्सिटी से शैक्षणिक क्षेत्र व शोध के क्षेत्र में कार्य करना चाहती है। भूमिका को कैरम और शतरंज खेलना रुचिकर लगता है। भूमिका कहती है कि काम करो ऐसा कि पहचान बन जाए, हर कदम ऐसा चलो कि निशान बन जाए। यहां जिंदगी तो सभी काट लेते हैं, जिंदगी जियो ऐसी कि मिसाल बन जाए।

Web Title : IBC24 Swarna Sharda Scholarship 2019,bhumika gupta, tikamgarh madhya pradesh

जरूर देखिये