नगीनों में नगीना जागृति सक्सेना ,जागृति सक्सेना, पन्ना

 Edited By: Shahnawaz Sadique

Published on 07 Aug 2019 07:35 PM, Updated On 07 Aug 2019 07:35 PM

छोटा सा गांव..छोटी पगडंडियां..पगडंडियों की कटीली राह..राह में अड़चनें हजार..पर उसने ठान लिया है, चलना है हर हाल में..बढ़ना है आगे..रचना है अपने हाथों अपनी दुनिया । पन्ना जिले की टॉपर जागृति सक्सेना का जज्बा और प्रतिभा आज सबके लिए प्रेरणा का स्रोत बन गई है । 

हीरे के लिए देश-दुनिया में मशहूर पन्ना जिले के बेशकीमती नगीनों में एक बिटिया है, जागृति सक्सेना। जागृति ने 500 में से 467 अंक लाकर हायर सेकेंडरी परीक्षा में पन्ना जिले में टॉपर जगह बनाई है। जागृति सक्सेना के पिता छोटी सी खेती पर आश्रित हैं और पवई में वह एक फोटोकॉपी की दुकान संचालित करके अपने बच्चों को पढ़ाते हैं। पवई तहसील के ग्राम मुराछ की रहने वाली जागृति यूपीएससी की तैयारी कर आईएएस बनना चाहती है। उसने अपनी सफलता के पीछे कठिन परिश्रम और टीचर्स से मिले मदद को बताया। जागृति को मां से जरुरी घरेलू कार्य सीखने में मदद मिली तो पिता से शिक्षा के महत्त्व और समाज हित में इसका उपयोग जाना। अपनी सफलता से काफी खुश है। IBC24 की स्वर्ण शारदा स्कॉलरशिप योजना को लेकर जागृति का कहना है कि इस योजना को देखकर स्टूडेंट में पढ़ाई करने का जज्बा आएगा और वे अच्छी मेहनत करके इस स्कॉलरशिप को पा सकेंगे।

Web Title : IBC24 Swarna Sharda Scholarship 2019,jagriti saxena,panna madhya pradesh

जरूर देखिये