"टेररिस्तान पाकिस्तान" को संयुक्त राष्ट्र में भारत का मुंहतोड़ जवाब

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 22 Sep 2017 12:08 PM, Updated On 22 Sep 2017 12:08 PM

भारत ने पाकिस्तान को टेररिस्तान बताते हुए संयुक्त राष्ट्र में मुंहतोड़ जवाब दिया है। जेनेवा में भारत ने दुनिया भर के देशों के प्रतिनिधियों के सामने पाकिस्तान से दो टूक कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद का उत्पादक और अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद का निर्यातक है। पाकिस्तान सिर्फ विध्वंसात्मक भूमिका निभा सकता है और पूरी दुनिया के लिए बड़ी चिंता का कारण है। पाकिस्तान की ओर से भारत के जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के लगाए गए आरोपों का करारा जवाब देते हुए भारत ने कहा कि दुनिया को पाकिस्तान जैसे नाकाम मुल्क से लोकतंत्र और मानव अधिकार का सबक सीखने की कोई जरूरत ही नहीं है। भारत ने राइट टू रिप्लाई के तहत पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी के आरोपों के जवाब में ये बातें कहीं। जम्मू-कश्मीर के मसले पर भारत ने पाकिस्तान को एक बार फिर कड़ा संदेश दिया कि ये हमेशा से भारत का अभिन्न अंग रहा है और रहेगा। पाकिस्तान सरहद पार से चाहे जितने भी आतंकवादी भेज ले, भारत की अखंडता को खत्म करने की उसकी मंशा कभी पूरी नहीं होने वाली है।

PAK पीएम की धमकी- भारत से निपटने के लिए कम दूरी के परमाणु हथियार बना रखे हैं

भारत ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को आईना दिखाते हुए कहा कि जिस मुल्क ने अलकायदा सरगना आतंकवादी ओसामा बिन लादेन तक की सुरक्षा की और मुल्ला उमर जैसों को शरण दी, वही मुल्क अब खुद को आतंकवाद का शिकार होने की दुहाई दे रहा है। पाकिस्तान आतंकवाद के खात्मे की बात करता है, लेकिन खात्मे का उसका तरीका कैसा है, इसे इसी से समझा जा सकता है कि संयुक्त राष्ट्र ने जिस आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा को प्रतिबंधित कर रखा है, उसी के सरगना हाफिज मोहम्मद सईद को एक राजनीतिक दल के नेता के रूप में वैधता की मांग की गई है। पाकिस्तान तो आतंकवाद का पर्याय है, जो आतंकवाद को जन्म देता है, इसे प्रश्रय देता है और फैलाता है, इस तरह से पाकिस्तान टेररिस्तान है जो दुनिया में आतंकवादियों का निर्यात करता है। भारत ने पाकिस्तान का मखौल उड़ाते हुए कहा कि जो मुल्क पूरी दुनिया में आतंकवादियों की आपूर्ति करता है, वो मानवाधिकार पर भाषण देता है।

नवरात्रि थीम पर काॅन्डम कंपनी का विज्ञापन कर विवादों में फंसी सनी लियोन

भारत का पाकिस्तान को ये करारा जवाब संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद ख़कान अब्बासी के संबोधन पर आया है, जिन्होंने भारतीय कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए कहा कि वहां भारत की सेना आम लोगों पर पैलेट गन बरसा रही है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने भारत पर पाकिस्तान के अंदर चरमपंथी ताक़तों की मदद करने का आरोप भी लगाया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि वह किसी के लिए बलि का बकरा बनने के लिए तैयार नहीं है. अपने भाषण में अब्बासी ने कहा, पाकिस्तान लगातार चरमपंथ के ख़िलाफ लड़ रहा है, और चरमपंथ से सबसे अधिक त्रस्त उनका ही देश है. अब्बासी ने अफगानिस्तान पर कहा कि अफगानिस्तान में शांति चाहने वालें में पाकिस्तान सबसे पहला देश है, लेकिन इसके लिए हम अफगान की लड़ाई अपनी जमीन पर नहीं लड़ने देंगे.

डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को लगाई कड़ी फटकार, अफगानिस्तान पर भारत से मांगी मदद

उन्होंने म्यांमार में चल रही हिंसा पर कहा कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों का सामूहिक नरसंहार किया जा रहा है और इसके ख़िलाफ उचित क़दम भी नहीं उठाए जा रहे.

रोहिंग्या शरणार्थियों को देश की सुरक्षा के लिए खतरा मानती है सरकार

Web Title : india responds to Pakistan in UN, Terristan pakistan

जरूर देखिये