कलवरी के बाद अब 'करंज' करेगी भारतीय तटीय सीमाओं की निगहबानी

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 31 Jan 2018 02:05 PM, Updated On 31 Jan 2018 02:05 PM

भारतीय नेवी में शामिल होकर INS करंज ने भारतीय नौसेना की ताकत और बढ़ा दी है. स्कॉर्पीन क्लास की तीसरी पनडुब्बी 'करंज' को बुधवार को मुंबई के मझगांव डॉक से नौसेना में शामिल किया गया.

ये भी पढ़ें- अफगानिस्तान, पाकिस्तान समेत भारत के कई हिस्सों में भूकंप के झटके

     

 

पन्डुब्बी का वजन 1565 टन, लंबाई 67.5 मीटर और ऊंचाई 12.3 मीटर है. कई चरणों की समुद्री परीक्षण के बाद इसे भारतीय नौसेना बेड़े में शामिल किया जा रहा है. 

ये भी पढ़ें- 36 वर्ष बाद पड़ रहा यह चन्द्र ग्रहण है खास, फिर 2028 में देखने को मिलेगा ऐसा संयोग

एमडीएल द्वारा बनाए जाने वाली 6 पनडुब्बियों में से यह तीसरी है। इस श्रेणी की पहली पनडुब्बी आईएनएस कलवरी पिछले साल 14 दिसंबर को लॉन्च की गई थी। वहीं दूसरी पनडुब्बी खांदेरी भी पहले ही लॉन्च की जा चुकी है, जिसका समुद्र में ट्रायल किया जा रहा है। 

       

 

ये भी पढ़ें- दिव्यांग का डांस देख आप भी इसकी देशभक्ति को सलाम करेंगे

समंदर में दुश्मनों के होश उड़ाने के लिए कलवरी के बाद करंज ही काफी है, क्योंकि इसकी ताकत से दुश्मन देश भंलि-भांति परिचित हैं. आपको बतादें 14 दिसंबर 2017 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कलवरी को भारतीय नेवी में शामिल किया था. कलवरी के बाद अब करंज भारतीय तटीय सीमाओं पर नजर रखेगा. 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Indian Navy launches 'Karanj' the third Scorpene class submarine built at Mumbai's Mazagon Dock

जरूर देखिये