निजी स्कूल के खिलाफ जांच में घोर लापरवाही उजागर, टीसी प्रकरण में निरस्त की जा सकती है स्कूल की मान्यता

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 15 Jul 2019 03:36 PM, Updated On 15 Jul 2019 03:36 PM

पन्ना । जिले में चौथी कक्षा के बच्चे के चरित्र प्रमाण पत्र पर बैड कैरेक्टर लिखने के मामले की जांच में शिकायत सही पाई गई है। चरित्र खराब मामले में जांच पूरी होने के बाद प्रशासन को रिपोर्ट सबमिट की गई है। रिपोर्ट में स्कूल प्रबंधन की घोर लापरवाही उजागर हुई है। रिपोर्ट में स्कूल की मान्यता रद्द करने की कार्रवाई प्रस्तावित की गई है। स्कूल प्रबंधन के खिलाफ FIR की अनुशंसा भी की गई है। बता दें कि इस मुद्दे को भी IBC24 ने प्रमुखता से उठाया था ।

ये भी पढ़ें- टीसी प्रकरण में शाला के खिलाफ कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश, शिक्षा व...

इसके पहेल मंत्री प्रभुराम चौधरी ने मीडिया से कहा कि पहले वो पता करेंगे की स्कूलों को चरित्र प्रमाण पत्र देने का अधिकार है की नहीं । इसके बाद जरुरी कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- स्कूल प्रबंधन की शर्मनाक हरकत, बच्चों की टीसी में लिख दिया चरित्र ख...

बता दें कि निजी स्कूलों की मनमानी किस कदर बढ़ती जा रही है इसकी बानगी फिर देखने को मिली थी। इंद्रपुरी कॉलोनी में संचालित एक निजी स्कूल प्रबंधन ने दो भाइयों की टीसी पर लिख दिया कि दोनों बच्चों का चरित्र खराब है। इस वजह से अब बच्चों को दूसरे स्कूलों में एडमिशन नहीं मिल रहा है। टीसी में बच्चों के पिता के बारे में भी उल्लेख किया गया है। पिता द्वारा इस मामले की शिकायत के बाद कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं। पिता के मुताबिक उसकी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण वह स्कूल का फीस नहीं दे पा रहे थे। इसलिए उन्होंने बच्चों को सरकारी स्कूल में भर्ती करने के लिए टीसी की मांग की थी। टीसी को लेकर स्कूल प्रबंधन और अभिभावकों में झड़प भी हुई।

ये भी पढ़ें- देश की पहली प्राइवेट ट्रेन बनेगी तेजस, निजी हांथों में संचालन की तै...

कई बार भटकाने के बाद टीसी दे दी गई लेकिन टीसी में बकायदा लाल स्याही में दोनों बच्चों का चरित्र खराब होना लिखा गया। बहरहाल कलेक्टर के निर्देश पर टीम ने स्कूल में पूछताछ की, तो जिम्मेदार व्यक्ति नहीं मिले। कलेक्टर ने स्कूल प्रबंधन को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। साथ ही टीसी में सुधार कर दोबारा जारी करने के आदेश दिए हैं।

Web Title : Investigations against private schools highlight gross negligence School recognition can be canceled in TC episode

जरूर देखिये