शराब दुकान बंद करवाने JCCJ कार्यकर्ताओं का आमरण अनशन, अमित जोगी ने प्रशासन से कही ये बात

Reported By: Rajkumar Sahu, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 08 Jul 2019 11:33 PM, Updated On 08 Jul 2019 11:33 PM

जांजगीर-चाम्पा: प्रदेश शराबबंदी की मांग अब तेजी से होने लगी है। वहीं, दूसरी ओर बाराद्वार-डूमरपारा की शराब दुकान को हटाने की मांग को लेकर जेसीसीजे कार्यकर्ता आमरण अनशन कर रहे हैं। आमरण अनशन कर रहे कार्यकर्ताओं का सम​र्थन करने सोमवार को जेसीसीजे के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी धरना स्थल पहुंचे। इस दौरान उन्होंने प्रदर्शनकारियों की मांग को जायज बताते हुए प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है।

Read More: Watch Video: दिव्यांग ने छत्तीसगढ़ ही नहीं देश का भी बढ़ाया मान, वर्ल्ड योग फेस्टिवल एण्ड चैंपियनशिप में जीते तीन पदक

अमित जोगी के विरोध करने की सूचना के बाद सक्ती एसडीएम और एसडीओपी, पुलिस बल के साथ पहुंचे। जहां अमित जोगी ने शराब दुकान को हटाने की मांग की। इस पर अफसरों ने मामले को शासन स्तर का बताकर इस मांग को शासन को भेजने की बात कही। जेसीसीजे नेताओं का कहना है कि शराब दुकान को नहीं हटाई गई तो आगे उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Read More: छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य जहां ग्रामसभा के सदस्य DMF के गवर्निंग बॉडी में शामिल, CSE ने की सरकार की तारीफ

गौरतलब है कि शराब दुकान को हटाने किए जा रहे आमरण अनशन के आंदोलन को जैजैपुर के बसपा विधायक केशव चन्द्रा ने भी एक दिन पहले मौके पर पहुंचकर समर्थन दिया था। इससे पहले ऋचा जोगी भी बाराद्वार पहुंची थीं और आंदोलन का समर्थन करते हुए शासन की शराब नीति को गलत बताया था।

Read More: भाजपा विधायक दल की बैठक, जनहित के मुद्दों पर सदन में सरकार को घेरने बनाई नई रणनीति

Web Title : JCCJ Leader's Hunger Strike for shut down liquor shop

जरूर देखिये