जोगी खेमे ने साधा भाजपा और कांग्रेस पर निशाना 

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 31 Jan 2018 04:33 PM, Updated On 31 Jan 2018 04:33 PM

कल जैसे ही जोगी की जाति के मामले पर बिलासपुर हाईकोर्ट की सुनवाई आई सभी पार्टी अपने अपने तरह से इस फैसले पर विचार देने लगी थी। किसी ने जोगी और रमन की साठगांठ कहा तो किसी ने उस तहसील को ही अवैध घोषित कर दिया जहां से जोगी की जाति का प्रमाणपत्र बना है। 

आज जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने इन सभी बातों का करारा जवाब दिया है। प्रवक्ता संजीव अग्रवाल ने प्रेस नोट जारी कर ये बात कही है। उन्होंने दोनों पार्टी पर निशाना साधते हुए लिखा है कि जोगी जी की लोकप्रियता बढ़ने के कारण कांग्रेस और भाजपा  ने आपस में मिलकर जो बड़ा षड्यंत्र रचा था वह अब जगजाहिर हो चुका है। 

ये भी पढ़े - इशारों-इशारों में ही अपनी ही पार्टी के नेता पर तंज कसे मंत्री राजेश मूणत

और तो और  रमन सिंह के प्रभाव में जो कमेटी बनी जिसे हाई पावर कमेटी कहा जाता  था वह खुद फ़र्ज़ी निकली। इस फ़र्ज़ी कमेटी की अध्यक्ष रीना कंगाले ने रमन सरकार के इशारे पर  झूठे और षड्यंत्रकारी तर्कों के आधार पर जाति प्रमाण पत्र रद्द करवाया, आज उसी कमेटी को रद्दी मान लिया गया है। दोनों राष्ट्रीय दल जोगी कांग्रेस की बढ़ती लोकप्रियता के कारण घबरा गए हैं और अबकी बार जनता के आशीर्वाद से प्रचंड बहुमत से छत्तीसगढ़ में जोगी सरकार बनेगी। 

ये भी पढ़े - 'जोगी की रमन और मोदी को खुली चुनौती,छग में चुनाव कर्नाटक के साथ कराएं'

संजीव ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल के ट्वीट पर जवाब देते हुए कहा कि जोगी जी को डॉ रमन का अभिन्न मित्र बताने वालों की असलियत जनता खुद जानती है।जोगी जी आज से नहीं बल्कि कई सालों से जाति प्रकरण के षड्यंत्र का मुकाबला करते आये हैं औऱ सातवीं बार भी उनकी जीत हुई है। संजीव अग्रवाल ने कहा कि इसके पूर्व जब जोगी जी की जाति पर शासन का फैसला आया था तब इन्हीं कांग्रेसियों ने पटाखे फोड़ कर जश्न मनाया था और भूपेश बघेल उसी रिपोर्ट के आधार पर राज्यपाल से मिलकर शिकायत दर्ज कराने पहुंचे थे.

 

यहां तक कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रभारी बनने के बाद पी एल पुनिया ने भी अजीत जोगी को नकली आदिवासी कहा था। संजीव अग्रवाल ने पुनिया से मांग की है कि वे अजीत जोगी से फौरन माफी मांगें। जोगी जी के खिलाफ जितने षड्यंत्र कांग्रेस और भाजपा रच सकती है रच रही है। बघेल और रमन की दोस्ती इतनी गहरी है कि पाटन में किसानों की ज़मीन छिनने वाले बघेल को आज तक जेल नही भेजा गया। संजीव अग्रवाल ने भूपेश पर तंज कसते हुए कहा कि जोगी जी के खिलाफ सारे षड्यंत्र पाटन में रचे जाते है जिसपर अप्रूवल सीएम हाउस में मिलता है.

ये भी पढ़े - छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं देवव्रत सिंह

 

संजीव ने कहा कि बघेल को जनता को बताना चाहिए कि क्यों eow में केस दर्ज होने के बाद भी वह बचे हुए हैं और सी डी कांड की सीबीआई जांच भी ठंडे बस्ते में क्यों डाल दी गई, इससे रमन और भूपेश की सांठगांठ खुद सामने आ गई है। टी एस सिंहदेव ने अगस्ता मामले में पीएसी के अध्यक्ष होते हुए रमन सरकार को क्लीन चिट दे दी थी। जोगी जी जनता के नेता है जन जन के मित्र है। डॉ रमन के अभिन्न मित्र बघेल एंड कम्पनी जनता को गुमराह करना बंद करे।भूपेश -रमन अपना बोरिया बिस्तर समेट ले तो बेहतर रहेगा चला चली के बेला है। जनता घटिया राजनीति करने वालो से ऊब चुकी है और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़  सरकार को अगला अवसर देने का मूड बना चुकी है।

वेब टीम IBC24

Web Title : Jogi camps target BJP and Congress

जरूर देखिये