तालाबों के सौंदर्यीकरण के नाम पर लूटमार, गहरीकरण करने के बाद मुरूम के परिवहन में जुट गया एनजीओ.. देखिए

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 09 Jun 2019 03:51 PM, Updated On 09 Jun 2019 03:51 PM

भिलाई। भिलाई नगर निगम क्षेत्र में तालाबों के सौंदर्यीकरण के नाम पर जमकर लूट मची है। दरअसल निगम क्षेत्रों में तालाब गहरीकरण के नाम पर निगम आयुक्त एसके सुदरानी ने एनजीओ को निशुल्क खुदाई की परमिशन दे दी है, जिसके बाद एनजीओ ने तालाब की सफाई छोड़कर जमकर मुरुम का परिवहन करना शुरू कर दिया और इसे बेचकर लाखों रुपये कमा रहा है।

पढ़ें- 12 हिरण की मौत के मामले ने वन विभाग ने युवक को दबोचा, यूरिया और फंद...

जिसे लेकर नेताप्रतिपक्ष रिकेश सेन और पूर्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने कलेक्टर दुर्ग और राज्य सरकार को इस मामले पर संज्ञान लेने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग है। वहीं दूसरी ओर इस पूरे मामले को सामान्य सभा में नहीं लाने और अंधाधुंध मुरुम की खुदाई से नाराज महापौर देवेंद्र यादव की शिकायत पर जोन वन के सब इंजीनियर को सस्पेंड कर दिया।

पढ़ें- तोड़ूदस्ता ने तोड़ा बुजुर्ग का घर, विरोध में महिला ने केरोसीन पीकर ...

इधर आयुक्त एस के सुन्दरानी फिलहाल मीडिया से बचते नजर आ रहे हैं। लेकिन निगम के पीआरओ प्रवीण सार्वा इस पूरे काम को इंजीनियरों के निर्देश पर होने की बात कर रहे हैं।

पढ़ें- अनियंत्रित होकर पलटी यात्री बस, 6 नाबालिग सहित 8 लोग गंभीर

मासूम से फिर ज्यादती, रेप के बाद हत्या 

Web Title : Lootmar in the name of beautification of ponds

जरूर देखिये