मध्यप्रदेश विधानसभा : बिजली के मुद्ददे पर गर्म हुआ सदन, नेता प्रतिपक्ष ने कहा हर बार पिछली सरकार को दोषी ठहराना ठीक नही

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 11 Jul 2019 01:33 PM, Updated On 11 Jul 2019 01:29 PM

भोपाल। मध्यप्रदेश​ ​​विधानसभा के चौथे दिन आज प्रश्नकाल के दौरान नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पिछली सरकार का हवाला देने पर आपत्ति जताई। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कमलनाथ सरकार को 7 महीने हो गए ले​किन हर बार पिछले 15 साल को जिम्मेदार ठहराना ठीक नहीं है।

read more : बोलेरो की चपेट में आकर दो युवकों की मौत, मृतकों में एक शिक्षक दो माह पहले हुई थी शादी

वहीं पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बिजली की समस्या पर सवाल उठाते हुए पूछा कि थ्री फेस बिजली कब ​तक मिलेगी, साथ ही उन्होने यह भी पूछा कि ​दिन में 8 घंटे ​बिजली कब तक मिलेगी। इस जवाब देते हुए ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह का ने जवाब दिया और कहा कि अभी प्रस्ताव विचाराधीन है।

read more : गोवा और कर्नाटक में सियासी उठापटक के बीच इस राज्य में भी हलचल शुरू, सभी विधायकों को दावत पर बुलाया गया

इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने चमगादड़ के कारण बिजली जाने की शिकायत पर सवाल उठाया जिस पर जवाब देते हुए मंत्री ​प्रियव्रत ​​सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश में बिजली जाने को लेकर चमगादड़ से कोई लेना देना नही है। केवल उत्तर भोपाल में चमगादड़ के कारण जाने की शिकायत मिली है। बिजली के मामले में सत्ता पक्ष और विपक्ष में तीखी नोकझोंक हुई और सदन में जमर हंगामा भी हुआ।

read more : भूपेश कैबिनेट की बैठक आज, अनुपूरक बजट की स्वीकृति के साथ मानसून सत्र में ​विपक्ष का सामना करने पर होगी चर्चा

इसके अलावा आज सदन में पेटलावद जांच आयोग की रिपोर्ट पेश होगी। सामान्य प्रशासन मंत्री गोविंद सिंह इस रिपोर्ट को पटल पर रखेंगे। 12 अक्टूबर 2016 को पेटलावद में मोहर्रम जुलूस के दौरान दो पक्षों में विवाद हुआ था।

 

 

 

 

 

 

Web Title : Madhya Pradesh assembly: Houses charge on electricity issue

जरूर देखिये