मालेगांव विस्फोट के आरोपी मेजर ने भरा पर्चा, शहीद करकरे पर प्रज्ञा के बयान से जताई सहमति

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 26 Apr 2019 06:49 PM, Updated On 26 Apr 2019 06:55 PM

वाराणसी: लोकसभा चुनाव 2019 में राजनीतिक दलों के नेताओं के विवादित बयान के चलते सियासी गलियारों में सरगर्मी बढ़ी हुई है। वहीं, निर्वाचन आयोग भी विवादित बयान देने वाले नेताओं पर कार्रवाई कर रही है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के बलिया से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि मालेगांव विस्फोट के आरोपी मेजर रमेश उपाध्याय ने शु्क्रवार को अखिल भारतीय हिंदू महासभा से अपना नामांकन दाखिल किया।

Read More: पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की ऐसी फोटो शेयर कर ट्रोलर्स के टारगेट में आई कांग्रेस, लोगों ने दिया ऐसा जवाब

नामांकन दाखिल करने के बाद मेजर ने मीडिया से रूबरू होकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि पुलिसकर्मी कहीं भी मरे वह शहीद नहीं कहलाता है। शहीद केवल स्वतंत्रता सेनानी और सैनिक होते हैं। पुलिसवाला कभी शहीद नहीं होता। वहीं, उन्होंने भोपाल सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर अपनी सहमति जताई है।

Read More: नक्सलियों ने 9 वाहनों को किया आग के हवाले, जल, जंगल, जमीन, को लेकर लगाया पोस्टर

उन्होंने आगे कहा कि हेमंत करकरे आतंकवादियों के हाथों मारे गए, यह उनकी नालायकी का सबसे बड़ा सबूत है। हेमंत ने साध्वी को निवस्त्र करके पीटा, हम सभी को टॉर्चर किया। इस मामले से जुड़े सभी लोगों को हेमंत ने इतना प्रताड़ित किया था कि वे ​ठीक से चल भी नहीं पा रहे थे। प्रज्ञा सिंह ठाकुर वीलचेयर पर चलती हैं। इसका सबूत है हेमंत करकरे ने उन्हें बहुत टॉर्चर किया था। हम लोगों पर यह कार्रवाई तत्कालीन यूपीए सरकार और कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष सोनिया गांधी, अहमद पटेल, पी. चिदम्बरम, सुशील कुमार शिंदे और दिग्विजय सिंह के निर्देश में किया गया था।

Read More: नारायण साईं दुष्कर्म के मामले में दोषी करार, 30 अप्रैल को सजा का ऐलान

गौरतलब है कि भोपाल सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुंबई हमले में शहीद हुए आईपीएस हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि करकरे को मैंने शाप दिया था, इसकी वजह से ही उनकी मौत हुई। साध्वी प्रज्ञा ने करकरे पर उन्हें मालेगांव ब्लास्ट के झूठे केस में फंसाने और कस्टडी में टॉर्चर करने के आरोप लगाए थे। इस मामले को लेकर निर्वाचन आयोग ने उन्हें नोटिस भी दिया था।

दीजिए जवाब और जीतिए इनामआप सब से अनुरोध है इसे शेयर जरूर करें

Question 1 - देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा ?
Question 2 - देश में इस बार किसकी सरकार बनेगी ?
Question 3 - देश में किस पार्टी को मिलेगी बहुमत ?
Question 4 - चौकीदार का सियासी जुमला किसे फायदा पहुंचाएगा ?
Question 5 - छत्तीसगढ़ में सिटिंग सांसदों को बदलना बीजेपी के लिए फायदेमंद होगा ?
Question 6 - क्या छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विस चुनाव वाला करिश्मा दोहरा पाएगी ?
Question 7 - क्या लोकसभा चुनाव में महागठबंधन असरदार होगा ?
Question 8 - क्या राफेल मुद्दे से कांग्रेस को फायदा पहुंचेगा ?
Question 9 - क्या एयर स्ट्राइक बीजेपी को चुनावी फायदा देगी ?
Question 10 - क्या इस बार वेस्ट बंगाल में बीजेपी कामयाब होगी ?
Question 11 - क्या राम मंदिर पर इस बार भी बीजेपी को वोट मिलेंगे ?
Question 12 - क्या कश्मीर के फ्रंट पर मोदी सरकार नाकाम रही है?
Question 13 - क्या आतंकवाद के खिलाफ मोदी सरकार की निति प्रभावी रही ?
Question 14 - क्या मप्र, छग, राजस्थान में बीजेपी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा ?
Question 15 - क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी प्रभावी प्रदर्शन करेगी ?
Question 16 -क्या दिग्विजय सिंह भोपाल का चुनाव जीत पाएंगे ?
Question 17- क्या छत्तीसगढ़ में इस बार मोदी लहर है ?
Question 18- क्या प्रियंका गाँधी कांग्रेस के लिए गुडलक साबित हो पाएंगी ?

Web Title : malegaon blast accused major ramesh upadhyay's controversial statement on police officers

जरूर देखिये