श्रीनगर एयरपोर्ट से ही बैरंग लौटे राहुल गांधी सहित विपक्ष के कई नेता, गवर्नर ने कहा 'यहां आकर राजनीति करना ठीक नही'

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 24 Aug 2019 07:09 PM, Updated On 24 Aug 2019 07:09 PM

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के आज हालात देखने श्रीनगर पहुंचे विपक्षी दलों के एक प्रतिनिधिमंडल को एयरपोर्ट से ही वापस लौटना पड़ा। इस प्रतिनिधि मंडल में राहुल गांधी के साथ गुलाम नबी आजाद, एनसीपी नेता माजिद मेमन, सीपीआई लीडर डी. राजा के अलावा शरद यादव समेत कई दिग्गज नेता शामिल रहे। वहीं गर्वनर सत्यपाल मलिक ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि यहां आकर राजनीति करना ठीक नही।

read more: झरने से 200 फीट नीचे गिरा युवक, लोगों ने किया रेस्क्यू.. देखिए

गवर्नर मलिक ने कहा, 'उनकी जरूरत संसद में थी, जब उनके सहयोगी संसद में बोल रहे थे। यहां आकर वह हालात और बिगाड़ना चाहते हैं तो यह ठीक नहीं है।' उन्होंने कहा, 'मैंने उनको सद्भाव के नाते बुलाया था, मगर उन्होंने इस पर राजनीति करना शुरू कर दिया। इन लोगों का यहां आना पूरी तरह राजनीति से प्रेरित था। राजनीतिक दलों को चाहिए कि वे राष्ट्रीय सुरक्षा के मसलों को राजनीति से दूर रखें।'

read more: यात्रीगण कृपया ध्यान दें, महंगा होने वाला है रेलवे टिकट! जानिए कितन...

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद पैदा हुए हालात का जायजा लेने के लिए राहुल गांधी समेत कई विपक्षी नेता शनिवार को श्रीनगर रवाना हुए थे। जम्मू-कश्मीर के प्रशासन ने उनसे दौरे को टालने की अपील भी की थी। नेताओं के एयरपोर्ट पहुंचने पर जमकर हंगामा हुआ। बाद में प्रशासन ने इन सभी को वापस दिल्ली भेज दिया।

read more:  गृहमंत्री अमित शाह ने जेटली के निधन पर शोक जताया, कहा 'उनका जाना मे...

वहीं राहुल गांधी और विपक्ष के अन्य नेताओं को जम्मू-कश्मीर जाने की अनुमति नहीं दिए जाने का विरोध करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार को तो विपक्षी दलों का एक प्रतिनिधि मंडल खुद वहां भेजना चाहिए था, जिससे जनता में उसके फैसलों के प्रति विश्वास बढ़ता।

Web Title : Many opposition leaders including Rahul Gandhi returned from Srinagar airport itself

जरूर देखिये