चिकित्सा अधिकारी के निजी क्लीनिक में स्वास्थ्य विभाग का छापा, अवैध तरीके से प्रसव कराने की शिकायत पर कार्रवाई, सरकारी दवा जब्त

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 03 Feb 2019 01:30 PM, Updated On 03 Feb 2019 01:30 PM

रायपुर। देवभोग के सुपेबेड़ा से स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव के जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने की बड़ी कार्रवाई की है। देवभोग चिकित्सा अधिकारी डॉ. शैलेश दौरा के निवास में विभाग में छापा मारा है। अवैध तरीके से चल रहे क्लीनिक में प्रसव कराने की शिकायत पर कार्रवाई की गई है। प्रसव कराने का सामान, सरकार दवाओं के साथ बड़ी मात्रा में एक्सपायरी दवा भी जब्त की गई है। वहीं क्लीनिक को सील कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

पढ़ें-IBC-24सिंहदेव ने थाईलैंड से लौटते ही सुपेबेड़ा किडनी पीड़ितों से की मुलाकात, गंभीर मरीजों को 

दरअसल देवभोग के स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉक्टर शैलेश दौरा के टिकरापारा निवास में संचालित अवैध क्लिनिक पर शनिवार की रात गरियाबंद के सीएमएचओ एन के यदु देवभोग एसडीएम निर्भय साहू, थाना प्रभारी सत्येन्द्र श्याम और बीएमओ के सुनील भारती की मौजूदगी मे छापामार कार्रवाई की गई।

पढ़ें-IBC-24सिंहदेव ने थाईलैंड से लौटते ही सुपेबेड़ा किडनी पीड़ितों से की मुलाकात, गंभीर मरीजों को 

लंबे समय से डॉक्टर सुनील दौरा के खिलाफ अवैध तरीके से प्रसव कराने की शिकायत मिल रही थी। जिसके आधार शैलेश दौरा के निजी क्लीनिक पर छापा मारा गया जहां पर प्रसव कराने के सामान वह खून के पूरे कमरे में छींटे एस्पायरी डेट की दवाइयां के साथ ही सरकारी अस्पताल की दवाइयां भी पाई गई जिसके बाद विभाग ने उक्त कमरे को सील कर दिया है और आगे की जांच जारी है।

Web Title : Medical officer's private clinic raid in health department

जरूर देखिये