तीन मेडिकल छात्रों ने जूनियर छात्रा से की ऐसी हरकत कि तंग आकर झूल गई फांसी के फंदे पर

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 24 May 2019 09:57 PM, Updated On 24 May 2019 09:57 PM

मुंबई: नायर अस्पताल में मेडिकल कॉलेज की पढ़ाई करने वाली एक छात्रा ने खुदकुशी कर ली। छात्रा ने हॉस्टल के कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी की है। इस हादसे से पूरे कॉलेज में दहशत का माहौल बना हुआ है। बताया जा रहा है कि छात्रा सीनियर छात्रों के रैगिंग से परेशान थी, जिसके चलते छात्रा ने खुदकुशी कर ली। मामले में परिजनों ने एफआईआर दर्ज कराई है, साथ ही दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

Read More: ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने की इस्तीफे की घोषणा, ऐलान करते सदन में हुईं भावुक

मिली जानकारी के अनुसार जलगांव निवासी पायल तडवी मुंबई के नायर अस्पताल में मेडिकल की पढाई कर रही थी। छात्रा ने बीते दिनों हॉस्टल में अपने कमरे में खुदकुशी कर ली। छात्रा की खुदकुशी को लेकर परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा है कि पायल को कॉलेज के तीन सीनियर छात्र रैगिंग कर रहे थे, जिससे वह काफी परेशान थी। पायल ने हमें फोन पर रैगिंग की जानकारी दी थी, लेकिन छात्रों ने हमें पायल से मिलने नहीं दिया। मेरी बेटी को उसकी जाति को आधार बनाकर अपमानित व प्रताड़ित किया जाता था। अस्पताल की महिला डाक्टरों ने भी मेरी बेटी को परेशान किया था।

Read More: शैक्षणिक सत्र 2019-20 अकादमिक कैलेंडर जारी, कॉलेजों में दाखिला 30 जून तक, कक्षाएं एक जुलाई से

वहीं, दूसरी ओर इस बीच छात्रा के शव को जलगांव ले जाया गया। जहां उसके घरवालों ने शव को जिलाधिकारी कार्यालय को भेज दिया। मामले को लेकर नायर अस्पताल के प्रबंधन ने कहा है कि यह घटना काफी गंभीर है। छात्रा ने डॉक्टरों और सीनियर छात्रों द्वारा रैगिंग को लेकर न तो किसी शिक्षक या रैगिंग विरोधी समिति के पास कोई शिकायत नहीं की थी। इस पूरे प्रकरण की जांच पुलिस को सौप दी गई है। अस्पताल की रैगिंग विरोधी कमेटी भी मामले की जांच कर रही है।

Web Title : Medical Student Cummitted suicide due to raging by senior student

जरूर देखिये