आरक्षण बढ़ाने के फैसले पर मंत्री शिव डहरिया बोले- मायने नहीं रखता सुप्रीम कोर्ट का गाइडलाइन

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 17 Aug 2019 04:34 PM, Updated On 17 Aug 2019 04:34 PM

रायपुर: छत्तीसगढ़ में ओबीसी और एससी आरक्षण को बढ़ाए जाने को लेकर मंत्री शिव डहरिया ने बड़ा बयान दिया है। मंत्री डहरिया ने कहा है कि आरक्षण के लिए सुप्रीम कोर्ट को गाइड लाइन मायने नहीं रखता। जनसंख्या के आधार पर आरक्षण में बढ़ोतरी की जा सकती है। हमारी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के गाइडलाइन का कहीं उल्लंघन नहीं किया।

Read More: कांग्रेस में अयोग्य करार दिए गए नेता ने खरीदी 11 करोड़ की रोल्स रॉयस, सबसे महंगी कार खरीदने वाले भारतीय नेता बने.. देखिए

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के मुखिया सीएम भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रदेश वासियों को संबांधित करते हुए अनुसूचित जनजाति को 32 प्रतिशत आरक्षण और OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने का ऐलान किया था।

Read More: 4 साल के मासूम को पिता ने दिया करंट के झटके, गंभीर हालत में ​अस्पताल में भर्ती, आरोपी फरार

भूपेश सरकार के इस फैसले पर कई दलों ने सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का हवाला देते हुए सवाल उठाया था। विपक्षी दलों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के आनुसार कोई भी राज्य सरकार 50 प्रतिशत से ज्यादा आरक्षण राज्य में लागू नहीं कर सकती।

Read More: रिकॉर्ड समय में दौड़ेने वाले इस खिलाड़ी ने की खेल मंत्री से मुलाकात, देश के लिए खेलकर मेडल जीतने की इच्छा जताई

ये है सुप्रीम कोर्ट का गाइडलाइन
सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार किसी भी स्थिति में कुल आरक्षण 50 प्रतिशत से अधिक नहीं होना चाहिए। इसके अलावा राज्य शासन ने बिना किसी आधार के एससी वर्ग के आरक्षण में कटौती नहीं कर सकती।

Read More: मंत्री इमरती देवी का उमाभारती पर पलटवार, अगले विधानसभा सत्र में बीजेपी के 8 विधायक होंगे हमारे पास

Web Title : Minister Shiv Dahariya says- not matter supreme court Guideline fo reservation

जरूर देखिये