शराबबंदी के लिए गठित कमेटी की पहली बैठक, विधायकों ने दिए सुझाव

Reported By: Star Jain, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 19 Aug 2019 10:45 PM, Updated On 19 Aug 2019 10:23 PM

रायपुर: छत्तीसगढ़ राज्य में पूर्ण शराबबंदी की अनुशंसा के लिए गठित की गई प्रमुख राजनीतिक दलों के विधायकों की समिति की प्रथम बैठक आज नवा रायपुर के जीसटी भवन में आयोजित की गई। इस बैठक में कांग्रेस और बसपा के ही विधायक शामिल हुए। जबकी भाजपा और जनता कांग्रेस जोगी ने अपने किसी भी विधायक के नाम की अनुशंशा अभी तक इस समिति के लिए नहीं की है।

Read More: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए कवायद तेज, प्रदेश प्रभारी आज पार्टी नेताओं से करेंगे चर्चा

समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा ने समिति के सदस्यों से पूर्णशराब बंदी के लिए सुझाव मांगे। बैठक में शर्मा ने कहा कि शराबबंदी के निर्णय को लागू करने के लिए विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ विचार-विमर्श किया जाएगा और जिन राज्यों में शराबबंदी की गई है वहाँ अध्ययन दल भेजा जाएगा। बैठक में उपस्थित समिति के सदस्यों ने कारगर तरीके से पूर्ण शराबबंदी किए जाने के सम्बंध में अपने-अपने सुझाव दिए। सचिव सह आयुक्त आबकारी निरंजन दास ने बैठक में बताया कि गुजरात, बिहार, मिजोरम, नागालैंड और केंद्र शासित राज्य लक्ष्यदीप में पूर्णता शराबबंदी है। जबकि कुछ राज्यों में शराबबंदी का निर्णय लिया गया था, लेकिन बाद में निर्णय को वापस लिया गया। समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा ने यह भी जानकारी दी की अब तक 50 से अधिक शराब दुकानों को बंद किया जा चुका है।

Read More: आंखफोड़वा कांड में इलाज के लिए 3 मरीजों को भेजा जाएगा चेन्नई, बड़ी कार्रवाई के निर्देश

 

Web Title : MLA's Meeting for Liquor ban in Chhattisgarh

जरूर देखिये