मोदी-मर्केल मुलाकात: आतंकवाद पर रहा जोर, दोनों देशों के बीच मजबूत संबंधों के दिए संकेत

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 30 May 2017 08:28 AM, Updated On 30 May 2017 08:28 AM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद को सबसे गंभीर चुनौती बताया है। उन्होंने इस बुराई से निपटने के लिए यूरोप से संयुक्त राष्ट्र की अगुवाई में एक प्रभावी वैश्विक भूमिका विकसित करने में अग्रणी भूमिका निभाने का अनुरोध किया है। चार देशों. जर्मनी, स्पेन, रूस और फ्रांस की छह दिन की यात्रा के पहले पड़ाव पर बर्लिन पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने जर्मन अखबार को दिए इंटरव्यू में ये बयान दिया है। प्रधानमंत्री मोदी की ये टिप्पणी काफी मायने रखती है, क्योंकि ये जर्मनी, फ्रांस, ब्रिटेन और स्वीडन जैसे यूरोपीय देशों में हाल ही में हुए आतंकी हमलों के मद्देनजर आई है। वहीं जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने भारत-जर्मनी के बीच मजबूत संबंधों की शुरुआत के संकेत दिए हैं।  6 दिवसीय दौरे के दौरान मोदी जर्मनी, रूस और फ्रांस के अलावा स्पेन की यात्रा करेंगे. वे 20 अलग-अलग आयोजनों में शामिल होंगे. आज वे जर्मनी से स्पेन के लिए रवाना होंगे.

 

Web Title : Modi-Merkel meeting

जरूर देखिये