मूवी रिव्यू - भूमि, हसीना पारकर, न्यूटन

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 22 Sep 2017 06:52 PM, Updated On 22 Sep 2017 06:52 PM

इस हफ्ते बॉक्स ऑफिस पर चार फिल्में रिलीज हुई हैं जिसमें राजकुमार राव की न्यूटन श्रद्धा कपूर की हसीना पारकर और संजय दत्त की भूमि...वहीं हॉलीवुड फिल्म किंग्समैन-2 बात करें भूमि की तो इस फिल्म का डायरेक्शन ओमंग कुमार ने किया है जो पहले भी मैरी कॉम के लिए नेशनल अवार्ड जीत चुके हैं और भूमि के जरिए वो फिर से ऐसा ही कुछ मैजिक चलाने की कोशिश कर रहे थे फिल्म भूमि से संजय दत्त लंबे अर्से बाद फिल्मों में वापसी कर रही हैं फिल्म की कहानी आगरा के रहने वाले अरुण और उसकी बेटी भूमि के इमोशनल रिश्ते के इर्दगिर्द बुनी गई है..जिसकी शादी होने वाली हैं और परिवार में खुशियों का माहौल है भूमि अपने पिता को छोड़कर नहीं जाना चाहती क्योंकि वो उससे बहुत प्यार करती है शादी के बाद उसके पिता का ख्याल कौन रखेगा यही सोचकर भूमि परेशान होती है.

और शादी के बीच अपनी सहेली से मिलने चली जाती है शादी के एक दिन पहले उसका गैंगरेप हो जाता है जिसेक बारे में वो अपने मंगेतर को बता देती है और फिर उसकी शादी टूट जाती है बारात वापस चली जाती है. अदातल में उसे और उसके पिता को इंसाफ नहीं मिलता गांव वालों के तानों से परेशान बाप और बेटी अपने हक की लड़ाई  खुद फैसला करते हैं और अंत में दोषियों को सजा देते हैं अब वो कैसे दोषियों को सजा देते हैं ये जानन के लिए आपको थिएटर जाना पड़ेगा...बात करें फिल्म में संजय दत्त की एक्टिंग की तो उन्होंने एक पिता का रोल बहुत खूबसूरत तरीके से निभाया अदिति रॉय हैदरी ने भी बेटी के रोल में जान डाल दी है शेखर सुमन ने छोटे से रोल में अच्छी एक्टिंग की है वहीं विलन के रोल में शरद केलकर दमदार दिखें फिल्म की कमजोर कड़ी इसका सैकेंड हाफ है जो काफी खिंचा हुआ लगता है लेकिन कुछ मिलाकर संजय दत्त का इमोशन अंदाज दर्शकों को पसंद आ सकता है आखिर उनकी फैन फोलोइंग कम नहीं है...वहीं बॉक्स ऑफिस पर श्रद्धा कपूर की फिल्म हसीना पारकर रिलीज हुई है जिसमें श्रद्धा लेडी डॉन के रोल में नजर आ रही हैं फिल्म की कहानी 2007 में कोर्ट रूम से शुरु होती है .

जहां हसीना को पेशी के लिए बुलाया जाता और वो अपने भाई दाऊद इब्राहिम और पिता के बारे में सवाल पूछ कर परेशान हो चुकी है और फिर इनसे पीछा छुड़ाने की कोशिश करती हैं लेकिन ऐसा हो नहीं पाता बाद में हसीना अपने पति की मौत के बाद भाई का बिजनेस संभालती है और यहीं से हसीना की हसीना आपा बनने की कहानी शुरू होती है वो आगे क्या करती है ये जानन के लिए आपको थिएटर जाना पड़ेगा. फिल्म में दाउद का रोल श्रद्धा के रियल भाई सिद्धार्थ कपूर ने निभाया है जो कहीं से भी दाउद जैसे नहीं लगते वहीं श्रद्धा की एक्टिंग भी हसीना बनकर उनकी खास नहीं है जितनी होनी चाहिए फिल्म में कई सारी कमियां हैं सैकेंड हाफ बोर करता है म्यूजिक भी दमदार नहीं है...

Web Title : Movie Review - Bhumi

जरूर देखिये